इस दिन से वक्री हो रहे हैं बुध, जानिये हर राशि पर इसका प्रभाव और बचाव के उपाय

बुध देव ने 23 अक्टूबर 2019, बुधवार रात 22:47 बजे वृश्चिक राशि में प्रवेश किया था...

भोपाल। आकाश में बदल रही ग्रहों की चाल न केवल समुद्र या पृथ्वी पर असर डालती है,बल्कि यह हर प्राणी पर भी अपना अच्छा या बुरा प्रभाव छोड़ती है।

ऐसा ही एक बड़ा परिवर्तन एक बार फिर होने जा रहा है,जहां कुंडली में बुद्धि का कारक बुध ग्रह, गुरुवार यानि 31 अक्टूबर 2019 से वक्री हो जाएगा।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार नव ग्रहों में सूर्य को राजा तो बुध ग्रह को राजकुमार की संज्ञा दी गई है। वहीं ज्योतिष शास्त्र में बुध बुद्धि का कारक ग्रह माना जाता है। साथ ही ये भी मान्यता है कि कुंडली में उत्तम बुध की स्थिति व्यक्ति को एक अच्छा व्यापारी, गणितज्ञ, वित्तीय कार्यों में कुशल, अपनी वाणी से लोगों को प्रभावित करने वाला तथा तेज बुद्धि का व्यक्ति बनाती है।

Horoscope Weekly 20 July To 25th July Rashifal Astrology In Hindi

ऐसे समझें बुध को...
यह एक तटस्थ ग्रह है जो दूसरे ग्रहों की संगति के अनुसार फल देता है। सौम्य ग्रहों के साथ संबंध बनाने पर अनुकूल और अच्छे फल तथा क्रूर ग्रहों के साथ संबंध बनाने पर अशुभ फल देने में सक्षम होता है। भगवान गणेश बुध ग्रह के कारक देव माने जाते हैं।

बुध की कृपा प्राप्त करने के लिए उत्तम गुणवत्ता का पन्ना रत्न धारण करना चाहिए, लेकिन किसी जानकार की सलाह पर ही साथ ही गाय को हरा चारा खिलाना चाहिए। वहीं बुध ग्रह को मिथुन और कन्या राशि का स्वामी माना जाता है। इसके अलावा बुध मुख्य रूप से सूर्य से योग का निर्माण करता है,जिसे बुधादित्य योग कहा जाता है।

बुध के गोचर का समय व अवधि:
अभी चंद दिनों पहले ही यानि 23 अक्टूबर 2019, बुधवार रात्रि 22:47 बजे बुध देव ने वृश्चिक राशि में प्रवेश किया है और अब यह 31 अक्टूबर 2019, बृहस्पतिवार को रात्रि 20:33 बजे वक्री हो जाएंगे। ये इस स्थिति में 7 नवंबर 2019, बृहस्पतिवार की शाम 16:04 बजे तक इसी राशि में स्थित रहेंगे।

बुध के इस गोचर का प्रभाव सभी 12 राशियों पर पड़ेगा, जिसमें से कुछ को इस दौरान बड़ा लाभ होने के साथ ही खुशखबरी भी मिल सकती है,तो वहीं कुछ राशियों इस दौरान नुकसान में रहेंगी।

25 july rashifal daily horoscope 2019

ये रहेगा बुध के इस गोचर का सभी 12 राशियों पर प्रभाव : effect of mercury on all 12 zodiac signs

1. मेष राशि / Aries Horoscope & Astrology effect of mercury :
आपकी राशि से बुध अष्टम भाव में स्थित होंगे। कुंडली के अष्टम भाव को आयुर्भाव कहलाता है। इस भाव से जीवन में आने वाले उतार-चढ़ाव, अचानक से होने वाली घटनाएं, आयु, रहस्य, शोध आदि को देखा जाता है।

गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर होगी। आपके पास धन आएगा और यदि लोन लेने की योजना बना रहे हैं तो इस दौरान आपको सफलता मिल सकती है। रहस्मयी चीज़ें आपको अपनी ओर अधिक आकर्षित करेंगी।

वहीं कार्य क्षेत्र में किसी प्रकार की रुकावट आने की भी संभावना है। ऐसी परिस्थिति में धैर्य से काम लें। परिवार में भाई-बहनों को किसी प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। गोचर के दौरान अपनी सेहत को लेकर थोड़े गंभीर रहें। बुध का ये गोचर अचानक ही यात्रा करा सकता है।

उपाय: बुधवार के दिन हरी सब्जियों का दान करें।

 

2. वृषभ राशि / Tauras Horoscope & Astrology effect of mercury :
इस दौरान आपकी राशि से सप्तम भाव में बुध प्रवेश करेंगे। ज्योतिष में कुंडली के सातवें भाव से व्यक्ति के विवाह स्थान माना किया जाता है।

इस समय लव पार्टनर के साथ प्यार भरी बातों से प्रेम संबंधों में और भी ज़्यादा मज़बूती आएगी। जबकि विवाहित जातकों के वैवाहिक जीवन में भी ख़ुशियां आएंगी। जीवनसाथी को अपने क्षेत्र में सफलता मिलने की संभावना है। प्रेम जीवन भी ख़ुशहाल होगा। कॅरियर की दृष्टि से गोचर शुभ है। इस अवधि में आपको बेहतर अवसर प्राप्त हो सकता है। जॉब में भी परिवर्तन होने की संभावना नज़र आ रही है। साझेदारी में कोई काम या व्यापार कर रहे हैं तो उसमें आपको अनुकूल परिणाम मिल सकता है।

प्रेम विवाह होने की संभावना तो है किंतु इसमें कुछ बाधाएं भी उत्पन्न हो सकती हैं। आर्थिक रूप से ख़र्चों में बढ़ोतरी के आसार हैं।

उपाय: श्रीहरि विष्णु की पूजा करें और उनके समक्ष कपूर का दिया जलाएं।

Aaj ka rashifal 19 October : आज राहु और चन्द्रमा हैं एक साथ, कर्क, वृश्चिक, मकर और मीन वाले रहें सावधान, जानिए आपकी राशि पर क्या होगा प्रभाव

3. मिथुन राशि / Gemini Horoscope & Astrology effect of mercury :
इस समय आपकी राशि से बुध षष्ठम भाव में गोचर करेंगे। ज्योतिष में षष्ठम भाव को शत्रु भाव कहा जाता है। इस भाव से विरोधियों, रोग, पीड़ा, जॉब, कम्पीटीशन, रोग प्रतिरोधक क्षमता, शादी-विवाह में अलगाव एवं क़ानूनी विवादों को देखा जाता है।

बुध का यह गोचर आपके लिए बहुत ज्यादा अनुकूल नहीं है। इस दौरान आपको विविध क्षेत्रों में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन आप अपनी मेहनत के बलबूते इन बाधाओं से पार पा लेंगे।

अपनी सेहत खास ध्यान देने की आवश्यकता होगी। इसके अलावा कार्य क्षेत्र में आपको अपने विरोधियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिलेगी। वे आप पर हावी होने का प्रयास करेंगे। हो सकता है आपको क़ानूनी केस का सामना भी करना पड़े। कुल मिलाकर कार्य क्षेत्र में बाधाएं आएंगी। आर्थिक दृष्टि से इस अवधि में ख़र्चों में बढ़ोत्तरी संभव है।

उपाय: बुधवार को गुड़ दान करें।

 

4. कर्क राशि / Cancer Horoscope & Astrology effect of mercury :
बुध आपकी राशि से पंचम भाव में गोचर करेंगे। कुंडली में पंचम भाव को संतान भाव के नाम से भी जाना जाता है। इस भाव से रोमांस, संतान, रचनात्मकता, बौद्धिक क्षमता, शिक्षा एवं नए अवसरों को देखा जाता है।

अगर आप एक छात्र हैं और उच्च शिक्षा पाना चाहते हैं तो समय आपके अनुकूल होगा। उच्च शिक्षा के लिए आप विदेश में भी जा सकते हैं। इस अवधि में आप अपनी प्रतिभा को निखारने का प्रयास करेंगे। जीवनसाथी के लिए ये गोचर सफलता लेकर आएगा। इस दौरान आप कोई बड़ा संकल्प ले सकते हैं। संवाद शैली पहले से बेहतर होगी और आप बुद्धिमानी व समझदारी से काम लेंगे।वहीं प्रेम जीवन में लव पार्टनर के साथ संबंध अच्छे होंगे। यदि आप सिंगल हैं और सच्चे प्यार की तलाश में है तो इस बीच आपके दिल को कोई अच्छा लग सकता है। उसके साथ नई रिलेशनशिप की शुरुआत भी हो सकती है।

लेकिन इस दौरान संतान की सेहत पर ध्यान देना होगा। साथ ही इस दौरान किसी बात को लेकर वैवाहिक जीवन में कुछ गलतफ़हमियों के कारण जीवनसाथी के साथ अनबन हो सकती है।

उपाय: मौसी, बुआ या चाची को हरे वस्त्र दान करें।

Aaj ka rashifal 24 October : विष्णु भगवान की कृपा से आज कर्क, तुला और धनु वाले रहेंगे लाभ में, जानिए आपका राशिफल

5. सिंह राशि / Leo Horoscope & Astrology effect of mercury :
आपकी राशि से इस समय बुध चतुर्थ भाव में गोचर कर रहे हैं। कुंडली के चतुर्थ भाव को सुख भाव माना जाता है। इस भाव से माता, जीवन में मिलने वाले सभी प्रकार के सुख, चल-अचल संपत्ति, लोकप्रियता एवं भावनाओं को देखा जाता है।

गोचर के प्रभाव से आपके जीवन में खुशहाली व समृद्धि आएगी। घर-परिवार के लोगों के साथ समय बिताने का अच्छा अवसर प्राप्त होगा। इस बीच अपनों का साथ आपको प्रसन्नता का अनुभव कराएगा। समाज में आपको प्रसिद्धि प्राप्त होगी। बड़े और समाज के प्रभुत्वशाली लोगों के साथ आपका उठना बैठना हो सकता है। गोचर के दौरान आपकी चल-अचल संपत्ति में वृद्धि होगी। आप कोई प्रॉपर्टी या फिर वाहन आदि ख़रीद सकते हैं। आप अपने कार्यक्षेत्र में आप मन लगाकर कार्य करेंगे। अच्छे कार्य की वजह से आपको अपने सीनियर्स से प्रशंसा मिलेगी।

उपाय: किन्नरों का आशीर्वाद प्राप्त करें।

 

6. कन्या राशि / Virgo Horoscope & Astrology effect of mercury :
आपकी राशि से बुध इस समय तृतीय भाव में जाएंगे। कुंडली में तृतीय भाव को पराक्रम भाव भी कहा जाता है। इस भाव से व्यक्ति के साहस, इच्छा शक्ति, छोटे भाई-बहनों, जिज्ञासा, जुनून, ऊर्जा, जोश और उत्साह को देखा जाता है।

गोचर के दौरान आपके साहस और आत्म-विश्वास में वृद्धि होगी। इस दौरान आप अपने जुनून व संकल्प को लेकर ज़्यादा गंभीर रहेंगे। आप निडरता के साथ आगे बढ़ेंगे और बेबाकी से अपने विचार दूसरों के समक्ष रखेंगे। नए लोगों से मिलने के आसार हैं। वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी की सफलता से आपका सामाजिक स्तर और भी ऊंचा होगा।

संवाद शैली बेहतर होगी किंतु आपको अपने क्रोध पर काबू पाना होना अन्यथा किसी के साथ लड़ाई-झगड़ा भी हो सकता है। इस गोचर के दौरान आप अपनी जॉब भी बदल सकते हैं। दोस्तों व रिश्तेदारों की आवश्यकता पड़ने पर आप उनकी मदद कर सकते हैं। इस अवधि में छोटी-छोटी यात्राओं के भी योग हैं। छोटे भाई बहनों को सफलता मिलने की संभावना है।

उपाय: दस मुखी रुद्राक्ष को गले में धारण करें।

Daily Horoscope दैनिक राशिफल

7. तुला राशि / Libra Horoscope & Astrology effect of mercury :
आपकी राशि से इस दौरान द्वितीय भाव में बुध गोचर करेगा। ज्योतिष में द्वितीय भाव से व्यक्ति के परिवार, उसकी वाणी, प्रारंभिक शिक्षा एवं धन आदि का विचार किया जाता है।

बुध का गोचर आपके आर्थिक पक्ष के लिए सकारात्मक रहने वाला है। इस दौरान आपको आर्थिक लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। बेहतर आर्थिक स्थिति से आप अपने पुराने कर्ज को उतारने में कामयाब होंगे। निजी जीवन में आपको गोचर के कई तरह से लाभ मिल सकते हैं। आपकी वाणी में मिठास आएगी और अपनी बातों से दूसरों को आकर्षित कर सकेंगे। इस दौरान मुमकिन है कि आपके इस मधुर व्यक्तित्व के कारण आपको कुछ और भी लाभ मिल जाएं। कार्य क्षेत्र में मेहनत व लगन के दम पर आपको करियर में सफलता मिलेगी।

लेकिन ख़र्चों पर नियंत्रण पाने के लिए वित्तीय मामलों में समझदारी दिखाने की ज़रूरत है। ध्यान रहे इस समय वैवाहिक जीवन में जीवन साथी का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है।खुद को विवादों से दूर भी रखें। परिवार में ख़ुशहाली आएगी।

उपाय: भगवान गणेश की पूजा करें और गाय को हरा चारा खिलाएं।

 


8. वृश्चिक राशि / Scorpio Horoscope & Astrology effect of mercury :
बुध ग्रह इस समय आपकी ही राशि में गोचर करेगा, जो आपके प्रथम भाव यानि लग्न भाव में स्थित होगा। ज्योतिष में लग्न भाव को तनु भाव कहा जाता है।

इस दौरान आपका ध्यान आय के स्रोत को बढ़ाने पर रहेगा जिससे कई आर्थिक लाभ भी होंगे। सामाजिक समारोह में आना-जाना हो सकता है। साथ ही इस समय आप विरोधियों का सामना डटकर कर सकेंगे और उन पर हावी रहेंगे। कार्य क्षेत्र पर अच्छा प्रदर्शन करेंगे और सहकर्मी और सीनियर्स आपके कार्य की तारीफ करेंगे।

इस दौरान बुध का गोचर आपके स्वभाव पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। इस दौरान आपको मानसिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है। सेहत के भी नाज़ुक रहने के आसार हैं। भाई-बंधुओं के साथ विवाद संभव, गुस्से पर काबू रखें।

उपाय: बुधवार के दिन श्री विष्णु के मंदिर में कपूर दान करें।

Saturday Rashifal 16 March 2019 Daily Horoscope in Hindi

9. धनु राशि / Sagittarius Horoscope & Astrology effect of mercury :
आपकी राशि से द्वादश भाव में बुध प्रवेश करेंगे। ज्योतिष में यह भाव व्यय भाव कहलाता है। इस भाव से ख़र्चे, हानि, मोक्ष, विदेश यात्रा आदि को देखा जाता है।

इस दौरान बिज़नेस या फिर व्यावसायिक मामलों के लिए आप विदेश की ओर रुख कर सकते हैं। यह यात्रा आपके लिए फ़ायदेमंद साबित होगी। इस समय आपका करियर का ग्राफ़ ऊपर जाएगा, साथ ही साथ विरोधी पक्ष भी मज़बूत हो जाएगा। ऐसे में उनके कुचक्र में न फंसें।

बुध का गोचर आपके आर्थिक पक्ष को सबसे अधिक प्रभावित कर आपके ख़र्चें बहुत बढ़ा सकता है। धन के मामले में किसी पर ज़रुरत से ज्यादा भरोसा करना भी हानिकारक हो सकता है। ध्यान रहे, गोचर के दौरान थोड़ा संभल कर रहें, क्योंकि आप इस दौरान विवादों में भी फंस सकते हैं।

उपाय: बुधवार को हरी इलायची दान करें।


10. मकर राशि / Capricorn Horoscope & Astrology effect of mercury:
आपकी राशि से बुध एकादश भाव में स्थित होगा। कुंडली में एकादश भाव को आमदनी का भाव कहा जाता है। इस भाव से आय, जीवन में प्राप्त होने वाली सभी प्रकार की उपलब्धियाँ, मित्र, बड़े भाई-बहनों आदि को देखा जाता है।

बुध का गोचर आपके लिए विभिन्न क्षेत्रों में लाभकारी होगा। इस दौरान आपके द्वारा किए गए प्रयास सफल होंगे। अपने लक्ष्यों को पूरा करने में कुछ रुकावटें आ सकती हैं, लेकिन आप उनका डटकर सामना करेंगे। आर्थिक रूप से भी गोचर आपके लिए लाभकारी रहने वाला है। आय प्राप्ति के साधनों में वृद्धि होने की प्रबल संभावना है। इस अवधि में आपको भाग्य का साथ मिलेगा और आप आगे बढ़ते रहेंगे। निजी जीवन में मित्रों और बड़े भाई बहनों से आपको किसी तरह का लाभ भी मिल सकता है।

उपाय: गले या बाजू पर विधारा मूल पहनें।

indian astrology in hindi

11. कुंभ राशि / Aquarius Horoscope & Astrology effect of mercury :
बुध इस समय आपकी राशि से दशम भाव में गोचर करेगा। ज्योतिष में दशम भाव को कर्म भाव भी कहा जाता है। यह भाव करियर व प्रोफेशनल, पिता की स्थिति, रुतबा, राजनीति एवं जीवन के लक्ष्यों की व्याख्या करता है।

इस समय निजी जीवन में प्रेम और सामंजस्य के बने रहने से संबंध मज़बूत होंगे। इसके साथ ही जीवनसाथी को सुखों की प्राप्ति होगी।

इस दौरान कॅरियर में उतार-चढ़ाव आते रहेंगे हालांकि आप अपनी बुद्धि व समझदारी के बल पर कार्यों में सफलता हासिल कर लेंगे। जो जातक नई नौकरी की तलाश कर रहे हैं उन्हें इस दौरान अधिक मेहनत करने की आवश्यकता होगी। कार्य क्षेत्र में मिलने वाले परिणाम से आप असंतुष्ट दिखाई दे सकते हैं। राजनीति से जुड़े जातकों के लिए गोचर बहुत ज्यादा अनुकूल तो नहीं है लेकिन अगर आप मेहनत से अपना कार्य कर रहे हैं तो आपको इसमें सफलता मिलने की संभावना है।

उपाय: श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्र का जाप करें।

 

12. मीन राशि / Pisces Horoscope & Astrology effect of mercury:
आपकी राशि से बुध का गोचर नवम भाव में होगा। ज्योतिष में नवम भाव को भाग्य भाव कहते हैं। इस भाव से व्यक्ति के भाग्य, गुरु, धर्म, यात्रा, तीर्थ स्थल, सिद्धांतों का विचार किया जाता है।

गोचर के दौरान आपका भाग्य चमक सकता है। इस अवधि में आपको आर्थिक लाभ भी प्राप्त होगा। बिज़नेस पार्टनर से भी लाभ की प्राप्ति होगी। किसी ईनाम या अवार्ड के हक़दार भी हो सकते हैं। लेखन कला में अपनी रूचि बढ़ा सकते हैं या फिर उच्च शिक्षा का प्लान भी बना सकते हैं। साथ ही बिज़नेस या शिक्षा के लिए लंबी यात्रा पर भी जाने का योग है।
वैवाहिक जीवन में आप जीवन साथी की सफलता से समाज में मान-सम्मान प्राप्त करेंगे। अपने कार्य में आप अपने सिद्धांतों और उसूलों को आगे रख सकते हैं। अपनी मां की सेहत का खास ख्याल रखें।

उपाय: गाय को हरा चारा व गुड़ खिलाएं।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned