Assembly Election: कांग्रेस ने खरीदा सरताज के नाम से फार्म! गोविंदपुरा सीट से कृष्णा गौर बनी भाजपा प्रत्याशी...

Assembly Election: कांग्रेस ने खरीदा सरताज के नाम से फार्म! गोविंदपुरा सीट से कृष्णा गौर बनी भाजपा प्रत्याशी...

Deepesh Tiwari | Publish: Nov, 08 2018 01:36:21 PM (IST) | Updated: Nov, 08 2018 06:14:29 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश सारंग के बयान से गर्माई राजनीति...

भोपाल@आलोक पांड्या की रिपोर्ट...
भाजपा से लगातार आ रहे विरोधी सुरों के बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश सारंग ने एक बयान देकर राजनैतिक माहौल को फिर से गरमा दिया है। पूर्व सीएम बाबूलाल गौर सहित पूर्व मंत्री सरताज सिंह के बगावती तेवरों के बीच सारंग का आया ये बयान एकाएक सुर्खियों में छा गया है।

दरअसल पूर्व सी एम बाबूलाल और पूर्व मंत्री सरताज सिंह के टिकट की दावेदारी करने को लेकर सारंग ने नसीहत देते हुए कहा कि इतने सालों तक मंत्री एमएलए रहने के बाद टिकट की मांग करना और दवाब बनाना गलत है।

वहीं निर्दलीय या कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ने पैर पर उन्होंने पैरों पर कुल्हाडी मारने जैसा बताया। सारंग का कहना था कि पार्टी ने इतना कुछ दिया फिर भी दावेदारी जताना गलत है।

वहीं इसी बीच आ रही सूचना के अनुसार सरताज ने होशंगाबाद में बैंक खाता खुलवा लिया है। जबकि बताया जा रहा है कि कांग्रेस के एक नेता ने सरताज के नाम से फार्म खरीदा है।

सिवनी मालवा सीट को लेकर घमासान!...
इससे पहले सिवनी मालवा सीट को लेकर मचे घमासान के बीच सरताज सिंह के कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ने की चर्चा तेज हो गई हैं। खबर मिल रही है कि सरताज को कांग्रेस का ऑफर मिला है।

सरताज ने खुद कहा है कि वह सिवनी मालवा से चुनाव नहीं लड़ेंगे, लेकिन किसी और सीट से चुनाव लड़ने की संभावनाओं से भी इंकार नहीं किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि होशंगाबाद इटारसी विधानसभा क्षेत्र से सरताज चुनाव लड़ सकते हैं।

इस कारण हैं नाराज: सरताज सिंह ने कहा, कांग्रेस के बड़े नेताओं ने मुझे ऑफर दिया है। हालांकि सरताज सिंह ने ये साफ नहीं किया है कि वो कांग्रेस में शामिल होंगे या नहीं।

बताया जा रहा है कि वहीं इसी बीच आ रही सूचना के अनुसार सरताज ने होशंगाबाद में बैंक खाता खुलवा लिया है। जबकि बताया जा रहा है कि कांग्रेस के एक नेता ने सरताज के नाम से फार्म खरीदा है।

sartaj singh

आखिरकार कांग्रेस में शामिल हुए सरताज सिंह BJP big leader sartaj singh join congress :
भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता सरताज सिंह ने आखिरकार घोषणा कर दी है वे अब कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। सिवनी मालवा से टिकट अब तक फाइनल नहीं होने के कारण उन्होंने भाजपा से बगावत कर दी है।

उनका कहना है कि भाजपा अब घर आकर भी टिकट देंगे तो नहीं लूंगा। इसे बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

मध्यप्रदेश में चुनाव से पहले टिकट बंटवारे को लेकर नाराज चल रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री सरताज सिंह ने भाजपा को छोड़ने का ऐलान कर दिया। बीजेपी के दिग्गज नेता, पूर्व केंद्रीय मंत्री सरताज सिंह ने कांग्रेस ज्वाइन करने का ऐलान किया। वे अब भाजपा को मुश्किल में डाल सकते हैं।

इससे पहले उन्हें मानाने का दौर काफी दिनों से चल रहा था, लेकिन वे सिवनी मालवा से चुनाव लड़ने के लिए अड़े हुए थे।

Sartaj singh

इटारसी में संगठन मंत्री वापस रवाना हो गए हैं। इसके बाद सरताज सिंह ने मीडिया को बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने कहा कि वे कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में होशंगाबाद से नामांकन दाखिल करने जा रहे हैं। जब उनसे पूछा गया कि यदि भाजपा सिवनी मालवा से प्रत्याशी घोषित करती है तो क्या करेंगे। सरताज सिंह ने कहा कि उन्होंने अब भाजपा से सारे रिश्ते खत्म हो चुके हैं। आज कांग्रेस में मेरा पहला दिन है।

इधर, भाजपा ने आज गुरुवार को अपनी तीसरी सूची जारी कर दी। जिसमें गोंविदपुरा की सीट से कृष्णा गौर को टिकट दिया गया है।

ये है भाजपा प्रत्याशियों की नई सूची

कृष्णा गौर को मिली गोविंदपुरा सीट...
वहीं, गोविंदपुरा सीट को लेकर भी भाजपा ने स्थिति साफ कर दी है। अब यहां से बाबू लाल गौर की बहू कृष्णा गौर भाजपा की ओर से चुनाव लड़ेगी। वहीं बाबूलाल गौर को विधानसभा चुनाव के स्टार प्रचारकों में शामिल किया है।
इससे पहले खबरें आईं थी कि बाबूलाल गौर औऱ उनकी बहू कृष्णा गौर को अगर पार्टी ने टिकट नहीं दिया तो वो निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं। हालांकि मीडिया के सामने बाबूलाल गौर और कृष्णा गौर ने निर्दलीय चुनाव लड़ने से इंकार करते हुए कहा था कि हमें पार्टी पर पूरा भरोसा है।

इधर, बड़ामलहरा से भाजपा को बड़ा झटका-
वहीं दूसरी ओर भाजपा को बड़ामलहरा छतरपुर में बड़ा झटका लगा है। यहां पार्टी के दो बड़े नेता पूर्व जिला महामंत्री रामनाथ यादव और युवा मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य मनोज यादव ने सपा का दामन थाम लिया है।

इनकी सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से मुलाकात हुई थी, जिसके बाद इन्होंने ये फैसला लिया। बताया जाता है कि इनमें से मनोज यादव सपा के टिकिट पर चुनाव लड़ेंगे। वह 9 नवंबर को अपना फार्म भरेंगे। उल्लेखनीय है कि इस सीट पर भाजपा ने मंत्री ललिता यादव को मैदान में उतारा है, जिस कारण क्षेत्रीय भाजपा नेता उनका विरोध कर रहे हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned