scriptNEET Controversy: दिग्विजय सिंह ने पूछा ‘NEET Exam देने वाले 90 फीसदी स्टूडेंट हिंदू, चुप क्यों हैं हिन्दुओं के ठेकेदार?’ | NEET Controversy Digvijay Singh made a big attack on PM Narendra Modi and RSS regarding NEET Exam | Patrika News
भोपाल

NEET Controversy: दिग्विजय सिंह ने पूछा ‘NEET Exam देने वाले 90 फीसदी स्टूडेंट हिंदू, चुप क्यों हैं हिन्दुओं के ठेकेदार?’

NEET Controversy: भोपाल में कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन के दौरान दिग्विजय सिंह ने RSS और पीएम नरेन्द्र मोदी पर बोला बड़ा हमला..

भोपालJun 21, 2024 / 07:37 pm

Shailendra Sharma

digvijay singh big statement on NEET Controversy
NEET Controversy: NEET मुद्दे और UGC-NET परीक्षा रद्द होने के बाद पूरे देश में इसे लेकर बवाल मचा हुआ है। विपक्ष पूरी तरह से इस मुद्दे को लेकर सरकार पर हमलावर है और सीधे पीएम नरेन्द्र मोदी पर निशाना साध रहा है। मध्यप्रदेश में भी कांग्रेस ने शुक्रवार को प्रदेशभर में विरोध प्रदर्शन किए। इस दौरान भोपाल में हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने पीएम नरेन्द्र मोदी और RSS पर सीधा हमला बोला है।

‘चुप क्यों हैं हिंदुओं के ठेकेदार’

NEET मुद्दे और UGC-NET परीक्षा रद्द होने पर भोपाल में हुए विरोध प्रदर्शन में प्रदेश कांग्रेस के तमाम दिग्गज शामिल हुए। इसी दौरान पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने RSS और पीएम नरेन्द्र मोदी पर बड़ा हमला बोला। दिग्विजय सिंह ने कहा कि आज वो लोग कहां हैं जो हिंदूओं के संरक्षण का ठेका लिए हुए थे। 14 लाख बच्चों में से कितने मुसलमान होंगे जिन्होंने एग्जाम दिए होंगे, 5 परसेंट-10 परसेंट..बाकी सब तो हिंदू हैं। क्या हिंदुओं के साथ अन्याय नहीं है? क्या हिंदुओं के बच्चों के साथ अन्याय नहीं है? वो पालक जो अपने जीवन की कमाई अपने बच्चों को कोचिंग सेंटर में भेजकर नीट के एग्जाम की तैयारी कराते हैं ये उनके साथ धोखा नहीं है? लेकिन आज RSS का एक शब्द नहीं आया, प्रधानमंत्री चुप हैं।

राम-कृष्ण का पाठ पढ़ाए जाने पर भी उठाए सवाल

मध्यप्रदेश में सीएम मोहन यादव के द्वारा स्कूल व कॉलेजों में राम-कृष्ण के पाठ पढ़ाए जाने का ऐलान किए जाने पर भी पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाए हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि भगवान राम और कृष्णा हमारे आदर्श है। भगवान राम और कृष्ण के बारे में पढ़ाया जाना चाहिए, जिससे हमारे समाज को सीखने को मिले। लेकिन राम और कृष्ण के अलावा दूसरे धर्म के धर्म गुरुओं के बारे में भी पढ़ाना चाहिए। दिग्विजय सिंह ने कहा कि सवाल यह भी है कि क्या गुरु नानक को नहीं पढ़ना चाहिए ? क्या जीजस को नहीं पढ़ाना चाहिए और क्या मोहम्मद साहब के बारे में नहीं पढ़ाना चाहिए?

Hindi News/ Bhopal / NEET Controversy: दिग्विजय सिंह ने पूछा ‘NEET Exam देने वाले 90 फीसदी स्टूडेंट हिंदू, चुप क्यों हैं हिन्दुओं के ठेकेदार?’

ट्रेंडिंग वीडियो