मां लक्ष्मी का एक मंत्र जो देता है सम्रद्धि व संपत्ति, शुक्रवार को ऐसे करें जाप

- इन कारणों से होती हैं मां लक्ष्मी रुष्ट
- राशि अनुसार ये करें उपाय...
- मां लक्ष्मी की पूजा के नियम और सावधानियां...

सनातन धर्म में भगवान विष्णु की पत्नी व धन और संपत्ति की अधिष्ठात्री देवी मां लक्ष्मी को माना जाता है। इनके संबंध में मान्यता है कि इनका जन्म समुद्र से हुआ था। ये भाग्य की भी देवी हैं अत: सप्ताह के दिनों में इनका दिन शुक्रवार माना जाता है, क्योंकि ज्योतिष में भाग्य का कारक ग्रह शुक्र को माना गया है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार देवी मां लक्ष्मी की पूजा से धन की प्राप्ति होती है साथ ही वैभव भी मिलता है। वहीं यदि लक्ष्मी रुष्ट हो जाएं तो घोर दरिद्रता का सामना करना पड़ता है। ऐसे में आज हम आपको बता दें कि कुछ चीजें घर में नकारात्मकता लेकर आती हैं, ऐसे में यदि आपको मां लक्ष्मी को प्रसन्न रखना है तो ऐसी चीजों को घर से दूर रखना ही उचित माना गया है। तो आइये पहले वह चीजें जानते हैं जो घर में नकारात्मकता लाती हैं।

MUST READ : कोरोना की जन्मपत्री - जानें राशि के अनुसार बचाव के उपाय

https://www.patrika.com/dharma-karma/janampatri-of-coronavirus-and-its-treatment-through-zodiac-signs-6074160/

ये चीजें फैलाती हैं नकारात्मकता...
1. मधुमक्‍खी का छत्‍ता : घर में कहीं भी मधुमक्‍खी का छत्‍ता न लगने दें। मान्यता है कि ये खराब किस्‍मत और गरीबी को न्‍यौता देती हैं।

2. टूटा दर्पण : टूटा हुआ दर्पण घर में नकारात्‍मक ऊर्जा को बढ़ावा देता है और मां लक्ष्‍मी के आगमन में विघ्‍न पैदा करता है।

3. पुराने तार : घर में पुराने पडे़ बिजली के तारों को हटा देना चाहिए जो कि लंबे समय से प्रयोग में न आ रहे हों। माना जाता है कि पुराने पड़े ये तार आपके जीवन को भी पूरी तरह से उलझा देते हैं।

4. मकड़ी का जाला : वास्‍तु की दृष्टि से घर में मकड़ी का जाला लगना अच्‍छा नहीं माना जाता है। यह दुर्भाग्‍यपूर्ण घटनाओं का संकेत देता है। इसे घर से तुरंत हटा दें।

5. कबूतर का घोंसला : पक्षियों का घर में आना शुभ माना जाता है, लेकिन कबूतर अगर घर में घोंसला बना ले तो यह अच्‍छा नहीं माना जाता। अत: बिना अंडे वाला घोंसला तुरंत हटा देना चाहिए। वहीं यदि कबूतर ने अंडे दे दिए हों तो कुछ दिन इंतजार करना चाहिए और फिर बच्‍चों के उड़ जाने के बाद ही घोंसले को हटाना चाहिए।

MUST READ : लुप्त हो जाएगा आठवां बैकुंठ बद्रीनाथ - जानिये कब और कैसे! फिर यहां होगा भविष्य बद्री...

https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/eighth-baikunth-of-universe-badrinath-dham-katha-6075524/

देवी मां लक्ष्मी की पूजा से इन फलों की प्राप्ति होती है...

- इनकी पूजा से केवल धन ही नहीं बल्कि नाम यश भी मिलता है।
- इनकी उपासना से दाम्पत्य जीवन भी बेहतर होता है।
- कितनी भी धन की समस्या हो अगर विधिवत लक्ष्मी जी की पूजा की जाय तो धन मिलता ही है।


ये है मंत्र और इसे पढ़ने की विधि...
: पंडित सुनील शर्मा के अनुसार सबसे पहले ब्रह्म मुहूर्त में पानी में थोड़ा सा दही मिलकर स्नान करें।
: वहीं नहाते समय लक्ष्मी-नारायण का ध्यान करें।
: लक्ष्मी नारायण मंदिर में अथवा अपने घर के पूजाघर में लक्ष्मी-नारायण की पूजा करके उनपर गुलाबी फूल चढ़ाएं।
: "श्रीं जगतप्रसूते नमः" मंत्र का जाप करें।
: लक्ष्मी-नारायण पर चढ़े चंदन से मस्तक पर तिलक करें।
: लक्ष्मी-नारायण पर चढ़ी खीर किसी कन्या को खिलाएं.

पंडित शर्मा के अनुसार ऐसा करने से माना जाता है कि इससे आपके आपके बिज़नस में मुनाफा होगा, घर से पैसों का अभाव खत्म होगा और गरीबी समाप्त होगी।

MUST READ : विवाह से लेकर आर्थिक समस्या तक ऐसे दूर करते हैं भगवान विष्णु, बस अपनाए ये आसान उपाय

https://www.patrika.com/dharma-karma/sanatan-dharma-sanatana-dharma-hinduism-on-lord-vishnu-6052860/

एक मंत्र जो बना सकता है आपको करोड़पति!
पं. शर्मा के अनुसार इसके तहत शाम के समय सूर्यास्त से पहले घर की उत्तर दिशा में लक्ष्मी का चित्र स्थापित करें। गाय के घी में इत्र मिलाकर दीपक करें, मोगरे की अगरबत्ती जलाएं, अबीर से तिलक करें, दही में शक्कर मिलाकर भोग लगाएं। इसके बाद महालक्ष्मी पर हल्दी चढ़ी हुई 22 कौड़ी चढ़ाएं। और स्फटिक की माला से "ॐ श्रीं नमः" मंत्र का जाप करें। जाप पूरा होने के बाद 11 कौड़ी लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें और 11 कौड़ी को जल प्रवाह करे दें।

देवी मां लक्ष्मी की जल्द कृपा पाने के लिए राशि अनुसार ये करें उपाय...

1. मेष: चंदन से तिजोरी "श्रीं" लिखें।
2. वृषभ : महालक्ष्मी पर चढ़ा दही शक्कर खाएं।
3. मिथुन: पक्षियों के लिए चावल रखें।
4. कर्क: सफ़ेद गाय को जौ खिलाएं।
5. सिंह: किसी भिखारी को रेशमी कपड़ा दान करें।
6. कन्या: कंठ पर इत्र लगाएं।
7. तुला: मुलतानी मिट्टी का इस्तेमाल करें।
8. वृश्चिक: बेडरूम में कर्पूर जलाएं।

9. धनु: शाम के समय तुलसी पर शुद्धघी का दीपक करें।
10. मकर: नाभि पर इत्र लगाएं।
11. कुंभ: लक्ष्मी मंदिर में आटा दान करें।
12. मीन: सफ़ेद गाय को मीठे चावल खिलाएं।

मां लक्ष्मी की पूजा के नियम और सावधानियां...
- मां लक्ष्मी की पूजा श्वेत या गुलाबी वस्त्र पहन कर करनी चाहिए।
- इनकी पूजा का उत्तम समय होता है - गोधूली वेला या मध्य रात्रि।
- मां लक्ष्मी के उस प्रतिकृति की पूजा करनी चाहिए जिसमे वह गुलाबी कमल के पुष्प पर बैठी हों।
- साथ ही उनके हाथों से धन बरस रहा हो।
- मां लक्ष्मी को गुलाबी पुष्प विशेषकर कमल चढ़ाना सर्वोत्तम माना जाता है।
- मां लक्ष्मी के मंत्रों का जाप स्फटिक की माला से करने पर वह तुरंत प्रभावशाली होता है।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned