scriptYahudi Ki Ladki staged at Shaheed Bhawan Bhopal | राजा ने इंसाफ की खातिर बेटे को ही दे दी फांसी | Patrika News

राजा ने इंसाफ की खातिर बेटे को ही दे दी फांसी

शहीद भवन में नाटक यहूदी की लड़की का मंचन

भोपाल

Published: January 13, 2020 01:47:34 am

भोपाल. शहीद भवन में चल रहे कलारंग नाट्य समारोह में रविवार को पारसी नाटक 'यहूदी की लड़कीÓ का मंचन हुआ। नाटक के लेखक आगा हश्र काश्मीरी है। इसका निर्देशन कारवां संस्था के निर्देशक उबेदउल्ला खान ने किया। नाटक में दिखाया गया कि आज के दौर में मजहबी नफरतें बढ़ गई हैं, सत्ता के मतभेद के साथ इंसाफ पर भी सवाल उठने लगे हैं।

Yahudi Ki Ladki staged at Shaheed Bhawan Bhopal
राजा ने इंसाफ की खातिर बेटे को ही दे दी फांसी

संगीत से उभरे कलाकारों के भाव
ये नाटक 1913 में लिखा गया था। यह नाटक रोमन द्वारा यहूदी पर किए गए अत्याचार की कहानी पर आधारित है। डायरेक्टर ने बताया कि पारसी नाटकों में सबसे कठिन काम संगीत का होता है। पुराने जमाने में जो पारसी समुदाय के लोग भारत आए थे। वे जो मंचन करते थे उनमें पात्र अपनी बात काव्यात्मक ढंग से कहते थे। इस तरह काव्यात्मक रूप के मंचन में संगीत ही सबसे कठिन होता है। इसी संगीत के माध्यम से मंच पर कलाकारों के भाव को जाहिर किया जाता है। खासकर नगाड़ा और झांझ की आवाज मंचन को अलग बनाती है।

इंसाफ सच्चा होना चाहिए
नाटक में राहिल रोमन शहजादे मार्केस से प्यार करती है, लेकिन शहजादा इसलिए राहिल से शादी नहीं करता है क्योंकि वह उनके धर्म की न होकर यहूदी की बेटी है। शहजादे का विवाह एक अन्य रोमन प्रिंसेस डेशियर से तय होती है तो यहूदी की लड़की राहिल इंसाफ के लिए राजा के पास पहुंच जाती है। दरबार में सभी लोग राहिल को बुरा-भला कहते हैं लेकिन राजा कहता है कि इंसाफ सच्चा होना चाहिए फिर चाहे वह उनका बेटा ही क्यों न हो। वह उसे मौत की सजा सुनाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.