पढ़िएं इस आदिवासी युवती की गाथा, तय किया UNO तक का सफर, करेंगी जगत कल्याण का काम

आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाली अर्चना का जीवन चमक-धमक से बिल्कुल दूर था (Tribal Girl Archana Soreng's Inspiring Story Who Is Consultant In UNO) (Odisha News) (Bhubaneswar News) (Ganjam News) (Inspiring Story) (Archana Soreng)...

 

By: Prateek

Published: 13 Aug 2020, 07:16 PM IST

भुवनेश्वर: 'मंजिल उन्हें मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंख से कुछ नहीं होता हौसले से उड़ान होती है।' यह पंक्तियां आपने अक्सर सुनी होंगी। जोश भर देने वाली इन पंक्तियों को जूनूनी लोग अपनी मेहनत के बूते सच भी कर दिखाते हैं। आज हम आपको ऐसी ही एक युवती की सफलता के बारे में बता रहे हैं जिसने सभी बाधाओं को ठेंगा दिखाते हुए देश का नाम विश्वपटल पर रोशन किया है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने देश में लागू किया Faceless Taxation System, जानिए Faceless Tax Assessment

यह कहानी है अर्चना सोरेंग की। अर्चना को संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएनओ) के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के 7 सदस्ययी सलाहकार समूह में शामिल किया गया है। अर्चना पर्यावरण संरक्षण और क्लाइमेट चेंप पर काम करेंगी।

यह भी पढ़ें: America ने अपने नागरिकों को Pakistan न जाने की दी सलाह, कहा- वहां होते रहते हैं Terror Attack

 

आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाली अर्चना का जीवन चमक—धमक से बिल्कुल दूर था। पर उनके प्रकृति प्रेमी पूर्वज बरसों से ही पर्यावरण संरक्षण में खास भूमिका निभाते रहे हैं। अर्चना भी उन्हीं के नक्शे कदम पर चलती रहीं और यह मुकाम हासिल किया। वह ओडिशा के गंजाम जिले की असिका तहसील में स्थित खरिया गांव की रहने वाली हैं। यह इलाका जनजातिय बहुल क्षेत्र है, यहां चारों तरफ प्रकृति प्रेमियों का बसेरा है।

यह भी पढ़ें: Mahesh Bhatt की फिल्म 'Sadak 2' के ट्रेलर के फ्लॉप होने की वजह Sushant Singh Rajput की मौत! बायकॉट करने की उठी आवाज़

संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएनओ) तक पहुंचने वाली अर्चना ने पटना वूमेंस कॉलेज से राजनीति विज्ञान में यूजी किया। फिर मुंबई के टीआईएसएस से पी.जी की। नेतृत्व क्षमता की बदौलत वह इस दौरान छात्रसंघ की अध्यक्ष भी बनीं। वह वकालत भी कर चुकी हैं।

यह भी पढ़ें: Sushant Singh Rajput की मौत को लेकर अमेरिकी डाक्टर का बड़ा खुलासा, बॉडी को स्टन गन से किया पैरालाइज्ड फिर की गई हत्या!

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव के जिस 7 सदस्ययी युवा सलाहकार समूह में अर्चना का चयन हुआ है वह दुनिया के पर्यावरण विषयों पर सलाह और समाधान देने का काम करेगा। अन्य सदस्ययों के साथ अर्चना भी इस काम में भूमिका निभाएंगी। चूंकि अर्चना को पर्यावरण संरक्षण के गुण पूर्वजों से विरासत में मिले हैं, यकिनन वह काम में अहम योगदान देंगी।

ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned