Meditation Benefits: जानते हैं मेडिटेशन से होने वाले लाभ के बारे में

Meditation Benefits: मेडिटेशन करने से आपकी सेहत को बहुत सारे लाभ मिलते हैं।इनसे होने वाले फायदों के बारे में आपको पता होना चाहिए।

By: Neelam Chouhan

Updated: 17 Aug 2021, 11:50 PM IST

नई दिल्ली। Meditation Benefits: जैसे-जैसे लोगों को मेडिटेशन के फायदे के बारे में पता चलता है, लोगों का रुझान इसकी ओर बढ़ना शुरू हो जाता है। इसको रोजाना करने से दिमाग संबंधी बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है। ये सकारात्मक एनर्जी और शांति का अनुभव कराता है। आज की लाइफ में भागदौड़ इतनी हो गई है कि हम अपने लिए समय ही नहीं निकाल पाते हैं। जबकि यदि रोजाना 10-15 मिनट मेडिटेशन रोजाना किया जाए तो ये बहुत सारे स्ट्रेस को कम कर देता है। लेकिन शुरू-शुरू में लोगों को ध्यान लगाते ही नींद आने लगती है। ध्यान करते समय नींद से बचना चाहिए। इन तरीकों को फॉलो करने से आपको मेडिटेशन करते समय नींद नहीं आएगी।

 Meditation Benefits

ध्यान लगाते वक्त नींद के कारण

मेडिटेशन आपको बहुत सार तरीकों से फायदा पहुंचाता है। मेडिटेशन करने से आपकी याददाश्त तेज होती है, स्ट्रेस कम हो जाता है और किसी भी काम को अच्छे से कर सकने की आपकी हिम्मत बढ़ाता है। मेडिटेशन करने से आपको एक अलग ही प्रकार की शक्ति का अहसास होता है और ये आपको सजग बनाती है।

नींद पूरी तरह न लेना, ज्यादा स्ट्रेस में रहना, पोषक तत्वों की कमी ये सब ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से आपको नींद आती है। आपको ध्यान लगाते समय कुछ अच्छी बातों पर फोकस करते रहना चाहिए। जिससे नींद की कमी न महसूस हो।

यह भी पढ़ें: रोज करें मेडिटेशन,होंगें ये फायदे

ध्यान करते समय नींद से कैसे बचें

ध्यान यानी मेडिटेशन करना बहुत ही अच्छी बात है। लेकिन स्टार्टिंग में आपको ज्यादा देर ध्यान लगाने से बचना चाहिए। क्योंकि यदि शुरू में ज्यादा देर करेंगे तो आपको बोर लगने लगेगा और नींद आने लग जाएगी। इसलिए शुरुआत में 10 से 15 मिनट तक मेडिटेशन करना बहुत होता है। इतनी देर ध्यान लगाना शुरू करेंगे तो दिमाग अपने आप काम करना शुरू कर देगा और आपको नींद भी नहीं आएगी।

यह भी पढ़ें: मेडिटेशन दिलाता है तनाव से मुक्ति जानें और फायदे

खाना खाने से पहले करें मेडिटेशन

ध्यान करने का मतलब है कि आप बस अच्छी बातें ही सोचें। आपको दूसरी बातों में फोकस नहीं करना चाहिए जिनको सोच के स्ट्रेस होने लग जाता है। याद रखें कि खाना खाने से पहले ही मेडिटेशन करें। क्योंकि भोजन के बाद नींद और आलस आना शुरू हो जाता है।

हमेशा खुले स्थान में ध्यान करें

खुली हवा और खुले वातावरण में ध्यान करने से नींद का एहसास आपको कम होगा। और आप अपने आपको प्रकृति के समीप पाएंगें। सुबह की ताजी खुली हवा, पक्षियों की आवाजें आपको प्रसन्न कर देंगी। इसलिए मेडिटेशन हमेशा खुले स्थान में करने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें: मेडिटेशन से होने वाले शारीरिक व मानसिक फायदे

Neelam Chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned