scriptCCI suspends Future group deal with Amazon, imposed Rs 200 cr penality | Amazon को बड़ा झटका, CCI ने Future Group के साथ डील सस्पेंड कर ठोका 200 करोड़ रुपये का जुर्माना | Patrika News

Amazon को बड़ा झटका, CCI ने Future Group के साथ डील सस्पेंड कर ठोका 200 करोड़ रुपये का जुर्माना

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India) ने अपने आदेश में कहा है कि "ये आवश्यक है इस डील की जांच हो जब तक जांच पूरी नहीं होती तब तक 2019 में हुई डील स्थगित रहेगी। Amazon पर 200 करोड़ रुपये का जुर्माना भी ठोका गया है।"

नई दिल्ली

Published: December 17, 2021 07:46:47 pm

भारत की एंटीट्रस्ट बॉडी ने शुक्रवार को Amazon की फ्यूचर ग्रुप के साथ 2019 की डील को सस्पेंड कर दिया है। ये कदम उन आरोपों की समीक्षा के बाद उठाया गया है जिसमें कहा गया था कि Amazon ने डील के समय कुछ महत्वपूर्ण जानकारी छुपाई थी। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India) द्वारा ये कदम लंबे समय तक Amazon और फ्यूचर ग्रुप के बीच चली कानूनी लड़ाई के बाद लिया है। इससे Amazon को बड़ा झटका लगा है। दूसरा झटका भी CCI ने Amazon 200 करोड़ रुपये का जुर्माना ठोक कर दिया है।
amazon_cci.jpg

CCI के आदेश में क्या है?

अपने 57 पेज के आदेश में भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India) ने कहा कि "ये आवश्यक है इस डील की जांच हो जब तक जांच पूरी नहीं होती तब तक 2019 में हुई डील स्थगित रहेगी। Amazon पर 200 करोड़ रुपये का जुर्माना भी ठोका गया है। अधिनियम की धारा 45 की उपधारा (2) के तहत भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने Amazon को आदेश दिया है कि वो 60 दिनों के भीतर जवाब दे। तब तक इस डील पर रोक लगी रहेगी।"

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने आगे अपने आदेश में कहा है कि 'Amazon ने डील के लिए मंजूरी लेने के दौरान डील के "वास्तविक स्कोप को कम करके दिखाया" और झूठे और गलत बयान भी दिया।'

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग का आदेश तब आया है जब सुप्रीम कोर्ट ने अमेजन की याचिका पर भी सुनवाई करने के लिए सहमति जताई थी, और उसे नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने के लिए दो हफ्ते का समय दिया था।
क्या है पूरा मामला?

बता दें कि फ्यूचर ग्रुप में Amazon ने 49 फीसदी हिस्सा खरीदा था। इसके लिए Amazon ने वर्ष 2019 में इस ग्रुप के साथ 1431 करोड़ रुपये का सौदा किया था। इसके साथ Amazon को ये अधिकार मिला था कि भविष्य में यदि फ्यूचर ग्रुप कंपनी की हिस्सेदारी बेचेगा तो Amazon के पास उसे खरीदने का पहला हक होगा।

2020 में फ्यूचर ग्रुप ने अपनी हिस्सेदारी रिलायंस को 24500 करोड़ रुपये में बेच दिया। इससे Amazon ने फ्यूचर ग्रुप पर डील के उल्लंघन का आरोप लगाया। वहीं फ्यूचर ग्रुप ने Amazon पर जानकारी छुपाने का आरोप लगाया था। इसके बाद फ्यूचर ग्रुप और Amazon में लंबे समय तक कानून लड़ाई भी चली। इसको लेकर फ्यूचर ग्रुप ने भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग को पत्र भी लिखा था जिसके बाद CCI का आदेश सामने आया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.