2020 से लागू हो जाएंगे BS6 नॉर्म्स , जानें आपके लिए कितना फायदेमंद है ये

दरअसल BS-VI इंजन से लैस वाहनों में खास फिल्टर लगेंगे, जिससे 80-90 फीसदी पीएम 2.5 जैसे कण रोके जा सकेंगे

By: Pragati Bajpai

Updated: 03 Dec 2019, 04:59 PM IST

नई दिल्ली: अप्रैल 2020 से हमारे देश में सिर्फ BS-VI स्टैंडर्ड वाली गाड़ियां हीं बिकेंगी। लेकिन अभी भी हमारे यहां लोगों को BS-VI नार्मस के बारे में बहुत सारी बातें नहीं पता है । अगर आपके साथ भी ऐसा है तो पढें ये रिपोर्ट क्योंकि BS-VI आने के बाद आम आदमी की जिंदगी पर क्या प्रभाव पड़ेगा, पुरानी गाड़ियों का क्या होगा जैसे तमाम सवालों के जवाब आपको इस रिपोर्ट में मिलेंगे।

सिर्फ पेट्रोल ऑप्शन में मिलेगी Renault Duster bs-6, टेस्टिंग के दौरान आई नजर

BS-VI से फायदा-

वायु प्रदूषण ( Air Pollution ) से मिलेगी मुक्ति- हमारे देश में वायुप्रदूषण की वजह से हवा के बिगड़ते हालात किसी से छिपे नहीं है । लेकिन BS-VI इंजनों के आने के बाद इस पर लगाम लगाई जा सकेगी। दरअसल BS-VI इंजन से लैस वाहनों में खास फिल्टर लगेंगे, जिससे 80-90 फीसदी पीएम 2.5 जैसे कण रोके जा सकेंगे इससे नाइट्रोजन ऑक्साइड पर नियंत्रण लग सकेगा। BS-VI इंजन से लैस गाड़ियों से (पेट्रोल और डीजल) होने पर प्रदूषण 75 फीसदी तक कम होगा

बढ़ेगी गाड़ियों की कीमत-

BS-VI के लिए नया इंजन और इसमें इलेक्ट्रिकल वायरिंग बदलने से गाड़ियों की कॉस्ट बढ़ जायेगी । इतना ही नहीं बीएस-6 से गाड़ियों की इंजन की क्षमता बढ़ेगी जिससे उत्सर्जन कम होगा। आपको बता दें कि BS-VI गाड़ियां 15 फीसदी तक महंगी होंगी।

BS-6 पेट्रोल इंजन से लैस हुई Honda city, मिलेंगे ये 4 वेरिएंट्स

माइलेज में होगा इजाफा-

BS-VI गाड़ियों के आने से न केवल प्रदूषण पर भी रोक लग सकेगी, बल्कि कंपनी माइलेज का झूठा दावा भी नहीं कर सकेगी क्योकिं नियम लागू होने पर कंपनियों को इसका पालन करना होगा। उम्मीद है कि इस इंजन के बाद गाड़ियों के माइलेज में इजाफा होगा।

Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned