scriptJharkhand: Our Government Is Ready To Meet Every Challenge: CM Soren | झारखंड: हमारी सरकार हर चुनौती से निपटने को तैयार: सीएम सोरेन | Patrika News

झारखंड: हमारी सरकार हर चुनौती से निपटने को तैयार: सीएम सोरेन

locationचाईबासाPublished: Dec 28, 2023 06:41:20 pm

Submitted by:

Devkumar Singodiya

वर्ष 20-25 में झारखंड युवा राज्य की गिनती में शुमार हो जाएगा। वर्तमान में झारखंड में 80% आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है। ऐसे में आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार भी एक महत्वपूर्ण और प्रभावी अभियान रहा है।

झारखंड: हमारी सरकार हर चुनौती से निपटने को तैयार: सीएम सोरेन
झारखंड: हमारी सरकार हर चुनौती से निपटने को तैयार: सीएम सोरेन

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार का ठीक तरह से गठन भी नहीं हुआ था और देश-दुनिया में वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण ने दस्तक दे दी थी। जिसके चलते देश में लंबे समय तक लॉकडाउन लगा रहा।
सीएम सोरेन ने कांकेर रोड, रांची स्थित मुख्यमंत्री आवास परिसर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि झारखंड देश के पिछड़े राज्यों में गिना जाता है। वैसी स्थिति में कोरोना जैसी आपदा राज्य के लिए अभिशाप जैसी थी। हमारी सरकार ने वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के समय भी अन्य राज्यों के अपेक्षा झारखंड में बेहतर कार्य किया तथा गरीब, मजदूर, किसान सहित सभी को सुरक्षा प्रदान की।

वैश्विक महामारी के चपेट में आकर हमारे मंत्रिमंडल के दो मंत्री भी शहीद हुए। जैसे ही वैश्विक महामारी का बादल छटा, हमारी सरकार ने वादों के अनुरूप राज्य को एक नई दिशा देने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि झारखंड राज्य हर चुनौती से निपटने को तैयार हैं।

आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार पूरे झारखंडियों की सरकार है। शुरुआती दिनों से ही हमारी सरकार ने राज्य के हर वर्ग, हर समाज को लेकर आगे बढ़ाने का कार्य किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपकी योजना-आपकी सरकार-आपके द्वार राज्य सरकार का एक महत्वपूर्ण और प्रभावी अभियान रहा है। झारखंड देश का सबसे पिछड़ा राज्य होने के वजह से यहां आर्थिक, शैक्षणिक स्तर पर सहित कई विषमताएं रही हैं।

राज्य कर्मियों को संवेदनशील बनाने का प्रयास किया
सोरेन ने कहा कि हमारी सरकार ने राज्य कर्मियों को संवेदनशील बनाने का प्रयास किया है। जिस उद्देश्य के साथ हम लोगों ने सरकार बनाई उसे उद्देश्य को पूरा करने के लिए यह सरकार अबतक गांव के लोगों के साथ, राज्य की जनता के भावनाओं के साथ कम से कदम मिलाकर चलने का कार्य किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी चुनौतियां खत्म नहीं हुई हैं, आगे हमको और कई चुनौतियों से सामना करना है परंतु इन चुनौतियों से निपटने के लिए हम पूरी तरह तैयार हैं।

गांवों को मजबूत करने का आह्वान
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने झारखंड के किसानों, मजदूरों, युवाओं, महिलाओं बेरोजगारों सहित सभी वर्ग को सरकार की विभिन्न भावी योजनाओं से जोड़ने का निरंतर प्रयास किया है। आगे भी करती रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड में 80% आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा संकल्प है कि हम झारखंड के गांव की अर्थव्यवस्था को मजबूत कर राज्य के माथे पर जो पिछड़ेपन का टैग लगा है उसे हटाने में जरूर कामयाब होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 20-25 में झारखंड युवा राज्य की गिनती में शुमार हो जाएगा। पिछले 20 वर्षों में इस राज्य को पूर्व सरकारों से जितनी अपेक्षाएं थीं उसके मुताबिक पूर्ववर्ती सरकारी बिल्कुल खरी नहीं उतर पाई यही वजह है कि आज झारखंड पिछड़ेपन का दंश झेल रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो