script 23 वर्ष बाद ये फैसला..पालिका मार्केट की छत व तलघर का मिला आधिपत्य | This decision after 23 years... got the ownership of roof and basement | Patrika News

23 वर्ष बाद ये फैसला..पालिका मार्केट की छत व तलघर का मिला आधिपत्य

locationछिंदवाड़ाPublished: Nov 25, 2023 07:41:00 pm

Submitted by:

manohar soni

पॉलिका मार्केट की छत-तलघर का आधिपत्य लेने पहुंचे अधिकारी।

23 वर्ष बाद ये फैसला..पालिका मार्केट की छत व तलघर का मिला आधिपत्य
23 वर्ष बाद ये फैसला..पालिका मार्केट की छत व तलघर का मिला आधिपत्य

छिंदवाड़ा.पालिका मार्केट कॉम्प्लेक्स के तलघर एवं छत के लंबित प्रकरण पर हाईकोर्ट का निर्णय नगर निगम के पक्ष में आया। इसके बाद निगम अधिकारियों ने शुक्रवार को पहुंचकर इसका आधिपत्य प्राप्त कर लिया।
निगम की जानकारी के अनुसार वर्ष 2000 में सुरेश अग्रवाल को 35 माह के लिए पालिका मार्केट कॉम्प्लेक्स के तलघर एवं छत को किराए पर आवंटित किया गया था, जिसे नियम विरुद्ध पाकर नगर पालिका के संकल्प द्वारा 2002 में निरस्त कर दिया गया था। इस संकल्प के विरुद्ध अग्रवाल ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर की। जिसकी सुनवाई के बाद नगर पालिका द्वारा पुन: अग्रवाल को स्थल का आवंटन किया गया। आवंटन को नियम विरुद्ध पाकर तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी ने कलेक्टर को पत्र प्रेषित किया। कलेक्टर ने प्रकरण का अवलोकन करने उपरांत आवंटन को निरस्त किया। इस पर अग्रवाल ने पुन: याचिका दायर की। उच्च न्यायालय ने लंबी सुनवाई के पश्चात् पालिका मार्केट कॉम्प्लेक्स के तलघर और छत को नगर पालिक निगम को देने का आदेश पारित किया।
निगमायुक्त राहुल सिंह एवं संपदा अधिकारी ईश्वर सिंह चंदेली के निर्देशन में निगम में अमले ने पालिका मार्केट कॉम्प्लेक्स के इन स्थलों का आधिपत्य लिया गया। इस दौरान प्रभारी कार्यपालन यंत्री भूपेंद्र मनवारे, उपयंत्री रोहित सूर्यवंशी, राजस्व अधिकारी साजिद खान, राजस्व निरीक्षक ऋषभ स्थापक, दुकान शाखा प्रभारी वीरेंद्र मालवी, रवि डोले, संतोष सोलंकी एवं राजेंद्र सोनी उपस्थित रहे।
....
जनहित में होगा कॉम्प्लेक्स का उपयोग
नगर निगम आयुक्त राहुल सिंह ने बताया कि लंबे संघर्ष के बाद यह स्थान निगम के स्वामित्व में आया है। पालिका मार्केट कॉम्प्लेक्स के तलघर का प्रयोग वाहनों के पार्किंग करने की योजना बनाई जा रही है। जिससे फब्बारा चौक एवं इतवारी बाजार में आने वाले वाहनों की सुगम व्यवस्था बनाई जा सके। इस व्यवस्था से शहर के भीतर होने वाली जाम की असुविधा से आम जन को राहत मिलेगी।

ट्रेंडिंग वीडियो