युवराज सिंह ने कहा-विराट कोहली तो 30 की उम्र में ही बन गए थे लीजेंड

युवराज सिंह कुछ लिमिटेड ओवर मैचों में विराट कोहली की कप्तानी में खेल चुके हैं। युवराज सिंह ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच जून 2017 में विराट कोहली की कप्तानी में ही खेला था।

By: Mahendra Yadav

Updated: 20 Jul 2021, 01:17 PM IST

टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें लीजेंड बताया है। युवराज सिंह कुछ लिमिटेड ओवर मैचों में विराट कोहली की कप्तानी में खेल चुके हैं। साथ ही उन्होंने एक इंटरव्यू में यह भी बताया कि टीम इंडिया का कप्तान बनने के बाद विराट कोहली में किस तरह के बदलाव आए। विराट कोहली की तारीफ करते हुए युवराज ने कहा कि लोग रिटायर होने के बाद लीजेंड बनते हैं लेकिन कोहली तो 30 की उम्र में ही लीजेंड बन गए।

कप्तान बनने के बाद कोहली ने और बेहतर किया
युवराज सिंह ने टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बातचीत में कहा कि विराट कोहली के पास अभी काफी समय है ऐसे में अभी उन्हें कई मुकाम हासिल करने हैं। युवराज सिंह ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच जून 2017 में विराट कोहली की कप्तानी में ही खेला था। युवराज ने बताया कि कोहली काफी रन बना रहे थे और फिर उन्हें कप्तान बना दिया गया। साथ ही उनका कहना है कि कई बार कप्तान बनने के बाद थोड़ा दबाव में आ जाते हैं, लेकिन जब कोहली को टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया तो उनकी कंसिस्टेंसी और भी बेहतर हो गई।

यह भी पढ़ें— युवराज सिंह और कैफ ने लॉर्ड्स में दिलाई थी भारत को ऐतिहासिक जीत

virat_kohli_and_yuvraj.png

30 की उम्र में ही हासिल किया बहुत कुछ
साथ ही युवराज सिंह ने कहा कि विराट कोहली ने तो 30 साल की उम्र तक काफी कुछ हासिल कर लिया था। वह पहले ही लीजेंड बन चुके हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि विराट कोहली को बतौर क्रिकेटर ग्रो होते हुए देखना काफी अच्छा अनुभव रहा है। साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि विराट कोहली और ऊंचाई पर पहुंचेंगे, क्योंकि उनके पास अभी काफी समय है।

यह भी पढ़ें—युवराज ने की टीम इंडिया के भविष्य के कप्तान की भविष्यवाणी

सबसे ज्यादा मेहनती व्यक्ति
इसके साथ ही युवराज सिंह ने विराट कोहली की फिटनेय और अनुशासन की भी तारीफ की। उन्होंने कहा,'मैंने विराट कोहली को अपने सामने बढ़ते और ट्रेन होते देखा है। वह शायद सबसे ज्यादा मेहनती शख्स हैं।' युवराज सिंह का कहना है कि विराट कोहली अपने खाने-पीने को लेकर बहुत ज्यादा अनुशासित हैं। इसके साथ ही वह अपनी ट्रेनिंग को लेकर बहुत ज्यादा अनुशासित है। युवराज ने कहा कि जब वह रन बना रहे थे, तब आप महसूस कर सकते थे कि वह उन लोगों में से हैं, जो दुनिया का बेस्ट खिलाड़ी बनना चाहते हैं। उसके अंदर वैसा एटिट्यूड है वैसा स्वैग है।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned