मोहम्मद का कार्टून दिखाने पर पेरिस में आतंकी हमला, इतिहास के एक टीचर की गला रेतकर हत्या

  • पेरिस में ईशनिंदा की बात पर एक टीचर की हत्या ( Teacher Killed )।
  • हमलावर ने टीचर पर लगाया ईशनिंदा ( Blasphemy ) का आरोप।

By: Dhirendra

Updated: 17 Oct 2020, 08:11 AM IST

नई दिल्ली। फ्रांस की राजधानी पेरिस ( Paris ) के उपनगर में चाकू से लैस एक व्यक्ति ने अपने स्कूल के सामने इतिहास और भूगोल के एक शिक्षक की गला रेतकर हत्या ( Teacher Killed ) कर दी। स्थानीय पुलिस इस घटना को आतंकी हमला ( Terrorist Attack ) मानकर जांच में जुटी है। स्थानीय पुलिस ने बताया है कि जिस शिक्षक की हत्या हुई है उसने मिडिल स्कूल के छात्रों को अपने कार्टून में पैगंबर मोहम्मद को दिखाया था।

हमलावर ने इस घटना को ईशनिंदा मानकर टीचर की हत्या की है। जानकारी के मुताबिक पेरिस पुलिस ने जांच के दौरान 18 वर्षीय संदिग्ध आतंकी को मार गिराया है। फ्रांस के आतंक-रोधी जांच अधिकारी ने बताया है कि यह घटना पेरिस के उत्तर-पश्चिम उपनगर कॉनफ्लैंस सैंटे-ऑनोराइन की है।

सरेंडर न करने पर पुलिस ने हमलावर को मार गिराया

शिक्षक की हत्या के बाद हमलावर आतंकी नारे लगाने लगा। मौके पर पहुंची पुलिस को भी उसने बंदूक दिखाकर डराने की कोशिश की। पुलिस को हथियार दिखाकर वह मौके से भाग भी निकला। लेकिन पुलिस ने दो मील पीछा करने के बाद आतंकी को ढेर कर दिया। घटनास्थल से करीब 10 गोलियां चलने की आवाज सुनी गई। घटना की जांच कर रहे अधिकारियों ने आरोपी को संदिग्ध आतंकी करार दिया है।

इस्लामिक स्टेट ने ली नीस हमले की जिम्मेदारी, 5 गिरफ्तार

कार्टून दिखाने से नाराज था हमलावर आतंकी

पेरिस डेलीमेल की खबर के मुताबिक टीचर ने हाल में बच्चों को पैगंबर का कार्टून दिखाया था जिससे हमलावर नाराज था। वह टीचर के सामने चाकू लेकर पहुंचा और उनका सिर काट दिया।

आतंकवाद के खिलाफ फ्रांस का संघर्ष जारी

घटना की सूचना मिलने के तुरंत बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन शुक्रवार शाम घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ फ्रांस का संघर्ष जारी है। शिक्षक की हत्या जिन कारणों से हुई है उनमें कोई दम नहीं है।

फ्रांस के आतंकी हमले में बिछड़े मां-बेटे को मिलाया फेसबुक ने

इस हमले ने शार्ली एब्दो हमले की याद दिलाई

पेरिस के उपनगर में यह घटना ऐसे वक्त में हुई है जब पेरिस में 2015 में हुए शार्ली एब्दो हमले की सुनवाई चल रही है। वह आतंकी हमला भी पैगंबर मोहम्मद के कार्टून छापने से नाराज होकर किया गया था।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned