scriptUP resident became a forest inspector by changing his father in MP | MP गजब है- यूपी का निवासी एमपी में पिता बदलकर बना वन दरोगा | Patrika News

MP गजब है- यूपी का निवासी एमपी में पिता बदलकर बना वन दरोगा

नौकरी हथियाने अजब-गजब कारनामा: शासन स्तर पर शुरू हुई जांच

सतना

Published: April 25, 2022 10:34:44 am

सतना। नौकरी पाने के लिए लोग क्या क्या कारनामे नहीं कर जाते, ऐसे ही कुछ कारनामों के बारे में आपने भी सुना ही होगा। लेकिन आज हम आपको नौकरी पाने के लिए एक ऐसे कारनामे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके संबंध में आप सोच तक नहीं सकते। दरअसल यह कारनामा उत्तर प्रदेश निवासी एक व्यक्ति ने किया है जिसके बाद उसने वन विभाग में नौकरी तक पा ली।

job_fraud.jpg
,,

इसके लिए उसने मध्यप्रदेश(मप्र) निवासी अपने एक रिश्तेदार (जो उसके पिता का सहनाम था) को अपना ही पिता बना लिया और एमपी के आरक्षण का फायदा उठाते हुए वन विभाग में वन दरोगा बन बैठा। मामले की शिकायत शासन स्तर पर मिलने के बाद अब जांच शुरू कर दी गई है। शासन स्तर से आई जांच को देखते हुए डीएफओ ने एसडीएम मझगवां से इस संबंध में रिपोर्ट चाही है। मामले का खुलासा सीएम हेल्पलाइन के जरिए हुआ है।

दरअसल प्रेमनारायण आरख वन रक्षक वनमंडल सतना में कार्यरत है। इनका चयन वन रक्षक पद पर सितंबर 2008 में अनुसूचित जनजाति वर्ग में किया गया था। इन्होंने नायब तहसीलदार मझगवां द्वारा जारी जाति प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया है। इस जाति प्रमाण पत्र के संबंध में डीएफओ ने एसडीएम मझगवां से कई बार जानकारी चाही है, लेकिन एसडीएम कार्यालय द्वारा लगातार इस जानकारी को छिपाया जा रहा है।

ऐसे समझें मामला
प्रधान मुख्य वन संरक्षक को दी गई शिकायत में बताया गया है कि रामखेलावन पुत्र पंचा और प्रेमनारायण पुत्र रामखेलावन का पैतृक मूल जन्म स्थान ग्राम ढोलबजा पो. हरिहरपुर तहसील कर्वी जिला चित्रकूट है। वह उप्र का मूल निवासी है। वोटर आईडी यूपी/59316य0567079 और डब्लूकेए0416719 वार्ड सं 10 है। प्रेमनारायण का मामा ग्राम सेजवार पो. हरदुआ तह. मझगवां जिला सतना मप्र(MP) का मूल निवासी है। इसके मामा का नाम भी रामखेलावन है।

आरोप है कि प्रेमनारायण मामा को अपना पिता बनाकर और जाति निवास गलत दर्शाकर वन दरोगा के पद पर बरौंधा मझगवां में नौकरी कर रहा है। जब प्रेमनारायण पुत्र रामखेलावन का जाति निवास प्रमाण पत्र बना था तब प्रेमनारायण के पिता रामखेलावन पुत्र पंचा मप्र का निवासी नहीं था। उत्तर प्रदेश में आरख जाति पिछड़ी जाति में आती है। मप्र में आरख जाति अनुसुचित जनजाति में आती है। प्रेमनारायण मध्यप्रदेश के फर्जी जाति और निवास प्रमाण पत्र लगाकर नौकरी कर रहा है।

एक साल से लंबित है जांच
इस मामले की जांच जनवरी 2021 में मझगवां एसडीएम को दी गई थी। लेकिन अभी तक इस मामले का जांच प्रतिवेदन नहीं दिया गया है। जिसके बाद मामला सीएम हेल्पलाइन तक पहुंचा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीआक्रांताओं द्वारा तोड़े गए मंदिरों के बारे में बात करना बेकार है: सद्गुरुबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिअफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.