scriptLive video of bridge flowing in Sindh river floods | मणिखेड़ा डैम के 10 गेट खुलने से उफान पर सिंध नदी, बहाव में टूटकर बहा पुल, देखें LIVE VIDEO | Patrika News

मणिखेड़ा डैम के 10 गेट खुलने से उफान पर सिंध नदी, बहाव में टूटकर बहा पुल, देखें LIVE VIDEO

सिंध नदी पर बना रतनगढ़ माता मंदिर का बड़ा पुल तेज बहाव में टूटकर लहरों में समाया...सेंवढ़ा समेत ग्रामीण इलाकों में बाढ़ से दहशत का माहौल...

दतिया

Published: August 03, 2021 08:23:13 pm

दतिया. ग्वालियर-चंबल संभागों में लगातार हो रही बारिश के कारण कई जगहों पर बाढ़ के हालात बन गए हैं। पार्वती, कूनो, सिंध समेत कई नदियां उफान पर हैं। सिंध नदी पर बना मड़ीखेड़ा डैम पूरी तरह से भर गया है और डैम के सभी 10 गेट खोल दिए गए हैं। जिससे सिंध नदी उफान पर आ गई है और शिवपुरी, ग्वालियर, भिंड व दतिया के कई गांव बाढ़ में आ गए हैं। डैम के सभी 10 गेट खुलसे ने सिंध नदी का बहाव काफी तेज हो गया है। दतिया के रतनगढ़ माता मंदिर जाने वाला पुल और लांच-पिछोर को जोड़ने वाला सिंध नदी के तेज बहाव के कारण पुल टूटकर बह गए।

sindh_river.jpg

देखें वीडियो-

तेज बहाव में टूटकर बहा पुल
मड़ीखेड़ा डैम के सभी गेट खुलने और लगातार जारी बारिश के कारण सिंध नदी अपना रौद्र रूप धारण किए हुए है। कई गांव बाढ़ के पानी से जलमग्न हो चुके हैं। नदी में पानी का बहाव इतना तेज है कि उसके सामने जो भी आ रहा है वो उसे अपनी लहरों में समेटकर ले जा रहा है। सिंध नदी पर बना रतनगढ़ माता मंदिर का बड़ा पुल भी मंगलवार को नदी के तेज बहाव में टूटकर लहरों में समा गया और लांच-पिछोर का पुल भी नदी का बहाव नहीं झेल पाया और ढह गया। रतनगढ़ माता मंदिर के बड़े पुल के नदी के बहाव में बहने का वीडियो भी सामने आया है जिसमें चंद मिनिटों में ही पुल का बड़ा हिस्सा नदी के तेज बहाव में बहता नजर आ रहा है। लगातार नदी का जल स्तर बढ़ता जा रहा है जिससे बाढ़ का खतरा बढ़ रहा है और इसके कारण प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया गया है।

देखें वीडियो- मड़ीखेड़ा डैम के सभी 10 गेट खुले

ग्वालियर-चंबल संभागों में बाढ़ का कहर
मध्यप्रदेश के ग्वालियर, चंबल संभागों में लगातार बारिश और डैम का पानी छोड़ने के कारण बाढ़ का दौर जारी है। शिवपुरी, श्योपुर, दतिया और ग्वालियर के 1171 गांव प्रभावित हुए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को सुबह मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई। वायुसेना के 5 हेलीकाप्टरों ने सुबह उड़ान भी भरी, लेकिन खराब मौसम के कारण उतर नहीं पाए। मौसम ठीक होते ही रेस्क्यू आपरेशन प्रारंभ हो जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने बताया कि एक हजार 600 लोगों को एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के लोगों ने निकाला।सोमवार 11 लोगों को एयरफोर्स ने निकाला। हमारी एसडीआरएफ की 70 टीमें रेस्क्यू आपेरशन में लगी हैं। 3 टीमें एनडीइआरएफ की लगी हैं और टीमों के लिए भी हमने अनुरोध किया है। सेना बुला ली गई है। शिवपुरी जिले के बीछी गांव में कई लोग पेड़ पर बैठे हुए हैं, उन्हें बचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। वहां दूर-दूर तक पानी है। सभी कलेक्टर से मैंने बात की है। हम सभी के संपर्क में हैं। मनीखेड़ा डैम भर जाने के कारण पानी छोड़ा गया है, जिससे जल स्तर और बढ़ने की संभावना है।

देखें वीडियो-

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.