scriptDewas leopard released in Khivni sanctuary | लोगों के साथ टहलनेवाला खतरनाक तेंदुआ, अब जंगल में मारेगा फर्राटा | Patrika News

लोगों के साथ टहलनेवाला खतरनाक तेंदुआ, अब जंगल में मारेगा फर्राटा

locationदेवासPublished: Dec 19, 2023 07:49:34 pm

Submitted by:

deepak deewan

देवास में एक अजब नजारा देखा गया। यहां के इकलेरा में खतरनाक तेंदुआ के साथ लोग टहलते दिखे। तेंदुआ के साथ लोगों ने सेल्फी भी ली। अब इस खतरनाक तेंदुए को जंगल में छोड़ दिया गया है।

tendua.png
खतरनाक तेंदुए को जंगल में छोड़ दिया गया

देवास में एक अजब नजारा देखा गया। यहां के इकलेरा में खतरनाक तेंदुआ के साथ लोग टहलते दिखे। तेंदुआ के साथ लोगों ने सेल्फी भी ली। अब इस खतरनाक तेंदुए को जंगल में छोड़ दिया गया है।

दरअसल यह तेंदुआ गांव में घुस आया था और बीमारी के चलते कमजोर हो गया था। ग्रामीणों ने उस पर सवारी की थी, उसके साथ फोटो-सेल्फी ली थीं। रामू नाम का वह तेंदुआ अब स्वस्थ हो गया है और उसे दौलतपुर विश्राम गृह से सोमवार दोपहर खिवनी अभयारण्य ले जाकर जंगल में छोड़ा गया।

यह भी पढ़ें: 48 घंटों में बिगड़ेगा मौसम, पश्चिमी विक्षोभ से दो दिन तक होगी झमाझम बरसात

इकलेरा गांव में कालीसिंध नदी के किनारे झाड़ियों में ग्रामीणों ने एक तेंदुआ को देखा और बाद में वहां भीड़ लग गई। लोगों की भीड़ लगने के बाद भी जब तेंदुए ने किसी पर हमला नहीं किया तो लोगों ने भी हिम्मत दिखाई और धीरे-धीरे उसके नजदीक पहुंच गए।

पास आने पर भी तेंदुआ चुपचाप बैठा रहा। इसके बाद तो तेंदुआ और ग्रामीणों की मानो दोस्ती हो गई। उसपर हाथ फेरकर प्यार करने लगे, लोग उसके साथ टहलने लगे और यहां तक कि उसके साथ सेल्फी भी ली। बाद में उसे वनविभाग के लोग ले गए।

यह भी पढ़ें: 19 से बदलेगा मौसम, अगले सप्ताह दो दिनों तक होगी जोरदार बरसात

दौलतपुर विश्राम गृह में तेंदुआ को पिंजरे में रखा गया और इसका इलाज शुरु किया गया। 29 अगस्त से 18 दिसंबर तक वनकर्मियों व पशु चिकित्सकों ने अपने परिवार के सदस्य की तरह उसकी देखरेख की। इससे तेंदुआ स्वस्थ हो गया तो उसे जंगल में छोड़ देने का फैसला लिया गया। आखिरकार सोमवार को तेंदुआ को छोड़ दिया गया। इस तरह पूरे 4 माह बाद उसे पिंजरे से आजादी मिली।

ट्रेंडिंग वीडियो