scriptAkshaya Tritiya 2020 : Daan ka Mahatva in hindi | अक्षय तृतीया : इनमें से किसी भी एक चीज का दान करने से जन्म जन्मांतरों तक धन की कमी नहीं रहती | Patrika News

अक्षय तृतीया : इनमें से किसी भी एक चीज का दान करने से जन्म जन्मांतरों तक धन की कमी नहीं रहती

अक्षय तृतीया पर्व 26 अप्रैल दिन रविवार को हैं

Published: April 25, 2020 08:16:04 am

इस साल 2020 में 26 अप्रैल दिन रविवार को अक्षय तृतीया का पर्व है। अक्षय तृतीया का पर्व प्रतिवर्ष वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है। धर्म शास्त्रों के अनुसार, अक्षय तृतीया के दिन दान करने से अथाह पुण्यफल के साथ अक्षय धन की प्राप्ति होती है। इस दिन किसी भी तरह के शुभ मांगलिक कार्य बिना पंचांग, मुहूर्त देखें किए जाते हैं।

अक्षय तृतीया : इनमें से किसी भी एक चीज का दान करने से जन्म जन्मांतरों तक धन की कमी नहीं रहती
अक्षय तृतीया : इनमें से किसी भी एक चीज का दान करने से जन्म जन्मांतरों तक धन की कमी नहीं रहती
Akshaya Tritiya 2020 : अक्षय तृतीया पर्व पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

अक्षय तृतीया पर्व को अखातीज और वैशाख तीज भी कहा जाता है। यह त्यौहार भारत में एक बड़े पर्व के रूप में भी मनाया जाता है। इस दिन स्नान, दान, जप, हवन आदि करने पर इनका फल अक्षय रूप में प्राप्त होता है।

अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया के दिन जो भी शुभ कार्य किए जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है। सतयुग और त्रेता युग का प्रारंभ इसी तिथि से हुआ था, ऐसा माना जाता है। भगवान विष्णु नर-नारायण के रूप में एवं हृयग्रीव और परशुराम का अवतरण भी इसी तिथि को हुआ था। इस दिन सभी विवाहित और अविवाहित बहनें विशेष पूजा भी करती है। अक्षय तृतीया के दिन भगवान गणेशजी एवं माता लक्ष्मी की पूजा भी की जाती हैं। कुछ लोग तो इस दिन महालक्ष्मी मंदिर में जाकर धन प्राप्ति की कामना से चारों दिशाओं में सिक्के उछालते हैं।

अक्षय तृतीया : इनमें से किसी भी एक चीज का दान करने से जन्म जन्मांतरों तक धन की कमी नहीं रहती

अक्षय तृतीया को दान का महत्व

धर्म शास्त्रों के अनुसार, इस खास दिन दान-पुण्य करने से धन-वैभव में वृद्धि होने लगती है। एक प्राचीन कथा के अनुसार, आज ही के दिन भगवान शिव शंकर से कुबेर को धन मिला था और इसी खास दिन भगवान शिव ने माता लक्ष्मी को धन की देवी का आशीर्वाद भी दिया था। इस दिन दान करने से मृत्यु का भय दूर हो जाता है। इस दिन जिस भी चीज का दान किया जाता है, उसके फल मनुष्य को कई जन्मजन्मांतरों तक मिलते रहते हैं।

भगवान परशुराम जयंती 2020 : पर्व पूजा विधि व शुभ मुहूर्त

इन चीजों का करें दान-

1- अक्ष्य तृतीया के दिन गरीब बच्चों को दूध, दही, मक्खन, पनीर आदि का दान करने से विद्या की देवी मां सरस्वती का विशेष आशीर्वाद प्राप्त होता है।

2- अक्षय तृतीया के दिन जौ, तिल एवं चावल का दान करने से आजीवन अन्न की कमी नहीं रहती।

3- अक्षय तृतीया के शुभ दिन गंगा, नर्मदा जैसी पावन नदियों में स्नान के बाद सत्तू खाने और जौ और सत्तू दान करने से व्यक्ति अनेक पापों के दुष्फल से मुक्त हो जाते हैं।

******************

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.