इन घरों में नहीं आती हैं देवी लक्ष्मी, दीपावली पर इन चीजों को करें घर से बाहर

दिवाली पर धन की देवी माता लक्ष्मी की पूजा...

By: दीपेश तिवारी

Published: 09 Nov 2020, 04:40 PM IST

इस साल दिवाली 14 नवंबर 2020 को मनाई जाएगी, वहीं दीपावली 2020 का ये पर्व 13 नवंबर से शुरु हो जाएगा। दरअसल कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि पर हर साल दिवाली का त्योहार मनाया जाता है। इस दिन बुद्धि के दाता भगवान गणेश और धन की देवी माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है। ताकि उनका आशीर्वाद हमेशा परिवार पर बना रहे।

जिससे घर में सुख-शांति के साथ समृद्धि भी बनी रहे। धार्मिक मान्यता के अनुसार दिवाली के दिन माता लक्ष्मी घर-घर जाकर अपने भक्तों पर कृपा बरसाती हैं, इसलिए दिवाली से पहले घर की साफ-सफाई और रंगाई-पुताई की जाती है। वहीं माना जाता है कि जिन घरों में साफ-सफाई नहीं होती और टूटी-फूटी चीजें रखी होती हैं, वहां माता लक्ष्मी का वास नहीं होता है।

कहा जाता है जिस घर में देवी माता लक्ष्मी का वास नहीं होता या देवी मां जिस घर को छोड़कर चली जाती हैं, वहां रहने वाले धन सहित तमाम परेशानियों से जुझने को मजबूर रहते है और ऐसे में उनके साथ कुछ भी हो सकता है... चूंकि ये पर्व धनतेरस से शुरु होता है इसलिए इस दिन से पहले घर में फालतू और टूटे-फूटे सामान को छांटकर फेंक देने उचित माना गया है, ताकि घर साफ सुथरा रहे। आइए जानते हैं इस दीपावली हमें की साफ-सफाई करते वक्त किन चीजों का ध्यान रखना होगा…

क्या करें धनतेरस से पहले:
: दीपावली की साफ-सफाई करते समय सबसे पहले टूटे-फूटे बर्तनों का बाहर कर दें। ये बर्तन घर में जगह घेरते हैं और इनमें खाना खाने से गरीबी भी बढ़ती है और वास्तु दोष भी लगता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, टूटे बर्तनों से धन की हानि होती है और गरीबी भी बढ़ती है।

: यदि आपके घर में कांच की खिड़की या फिर शीशा टूटा हुआ है तो उसको बदलवा लें, क्योंकि टूटा हुआ कांच दुर्भाग्य की निशानी माना जाता है। साथ ही टूटा कांच राहु का प्रतिक माना जाता है। वास्तु शास्त्र में भी टूटे कांच को घर में रखना अशुभ बताया गया है।

: ज्यादातर घरों में परिवार के सदस्यों की तस्वीरें लगी रहती हैं। अगर आपके घर में तस्वीर रखे-रखे टूट गई है तो उनको तत्काल प्रभाव से उसके शीशे को बदल दें, अन्यथा इससे वास्तु दोष उत्पन्न होता है। जिससे घर में सुख-शांति का वास नहीं होता और परिवार के सदस्यों के बीच प्रेम भाव खत्म हो जाता है।

: यदि आपके घर में टूटा फर्नीचर रखा हुआ है तो दिवाली पर इसको मरम्मत करवा लें या फिर बदल लें। क्योंकि टूटा फर्नीचर परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव डालता है। साथ ही टूटे दरवाजों को भी सही करवा लें। मान्यता है कि टूटे दरवाजे से कभी भी मां लक्ष्मी प्रवेश नहीं करती।

: यह भी माना जाता है कि घड़ी से घर के सदस्यों की सफलता तय होती है। रुकी हुई या फिर बंद पड़ी घड़ी से परिवार के सदस्यों की तरक्की रुक जाती है। इसलिए दिवाली की साफ-सफाई के दौरान बंद पड़ी घड़ियों को तुंरत हटा दें। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है और नकारात्मकता बनी रहती है।

: इसके साथ ही पूजाघर में भूलकर भी देवी-देवताओं की खंडित तस्वीर या मूर्ति को नहीं रखना चाहिए। इनको पीपल के पेड़ के नीचे या फिर नदी में प्रवाहित कर देना चाहिए। खंडित तस्वीर या मूर्ति को देखकर माता लक्ष्मी आहत होती हैं, इसलिए साफ-सफाई के दौरान सबसे इन्हें घर से बाहर पवित्र स्थान पर रख देना चाहिए।

: वहीं यदि आपके घर पर कोई इलेक्‍ट्रॉनिक सामान खराब पड़ा है, तो दिवाली में इनको भी बाहर कर दें या फिर सही करवा लें। क्योंकि खराब इलेक्‍ट्रॉनिक सामान शनि दोष के साथ-साथ वास्तुदोष भी लगता है।

Show More
दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned