General Knowledge Questions Paper: प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं ये सवाल, जानिए इनके जवाब

वर्तमान में कुछ ऐसे सवाल हैं जो अक्सर विभिन्न Competition Exams पूछे जाते हैं। आम तौर पर ये हमारे रोजमर्रा के जीवन से जुड़े होते हैं।

By: सुनील शर्मा

Published: 11 Oct 2018, 03:13 PM IST

वर्तमान में कुछ ऐसे सवाल हैं जो अक्सर विभिन्न Competition Exams पूछे जाते हैं। आम तौर पर ये हमारे रोजमर्रा के जीवन से जुड़े होते हैं। विज्ञान से जुड़े कुछ ऐसे ही सवालों (जिन्हें हम नजरअंदाज कर देते हैं या फिर हमें उनका पता ही नहीं चलता) के जवाबों के बारे में हम यहां जानेंगे।

प्रश्न - (1) क्या आपने कभी बहुत ठंडी बर्फ की ट्रे को पकडऩे की कोशिश की है? यदि हां तो यह देखा होगा कि अंगुलियां ट्रे से चिपक जाती हैं। क्यों?
आपकी अंगुलियों पर हमेशा कुछ न कुछ नमी रहती है। जब आप बर्फ की ठंडी ट्रे को छूते हैं, तब आपकी अंगुलियों की नमी जम जाती है। अंगुलियों का दबाव जमी हुई नमी को ट्रे में रखी बर्फ से चिपका देता है। अगर आप बर्फ की ट्रे को चाटने की कोशिश करेंगे तो जीभ चिपक जाएगी।

प्रश्न - (2) साबुन किस तरह से हमारे शरीर और कपड़ों के मैल को साफ करता है?
मैल के कण दो तरह के होते हैं, कुछ में तेल होता है और कुछ में विद्युत का चार्ज। सिर्फ पानी से धोने से कोई लाभ नहीं होता है €क्योंकि ये कण हमारे शरीर और कपड़ों से कसकर चिपक जाते हैं। फिर तेल पानी में बिल्कुल भी नहीं घुलता। साबुन के परमाणुओं की संरचना ऐसी होती है कि वे तेल और मैल के कणों से जाकर चिपट जाते हैं। इसके बाद इन मैले कपड़ों को पानी से धोने से उनकी गंदगी धुल जाती है।

प्रश्न - (3) आपने देखा होगा कि गुसलखाने में गर्म पानी से नहाने के बाद वहां लगा आईना धुंधला हो जाता है। तेज बारिश के बाद कार के शीशों का घुंधला पड़ जाना भी आम बात है। इस प्रकार के धुंधलेपन से बचने का एक सरल उपाय है। क्या आप जानते हैं कि वह €क्या है?
तेज बारिश के दौरान अपने दर्पण या कार की विंड स्क्रीन के अंदर ओर थोड़ा साबुन या डिटर्जेंट लगा दें या फि आलू का टुकड़ा घिस दें। इन सबका संबंध सतह के तनाव और संपर्क के कोण से है। आपके गुसलखाने का दर्पण असल में काफी गंदा होता है। इसीलिए उस पर जमी भाप फैल कर उसे गीला नहीं कर पाती और दर्पण पर छोटी-छोटी बूंदों के रूप में जमा हो जाती है। यानी गंदगी के कारण दर्पण और पानी के बीच संपर्क कोण बढ़ जाता है। साबुन का पानी या आलू का रस तरल की पतली सतह बनाता है और संपर्क कोण को कम कर देता है।

प्रश्न - (4) क्या आपने कभी अनुभव किया है कि सूखे कागज की बजाय गीले कागज फाडऩा ज्यादा आसान है। क्यों?
कागज सेल्युलोज के रेशों का बना होता है। ये रेशे आपस में चिपके होते हैं। कागज फाड़ते समय हमें रेशों के आपसी बल से कहीं अधिक बल लगाना पड़ता है। पानी की मौजूदगी में रेशों के बीच स्थिर विद्युत बल कमजोर पड़ जाता है और पानी के अणु रेशों के बीच की जगह में बहकर आ जाते हैं। इसलिए गीले कागज को फाडऩा आसान होता है।

प्रश्न - (5) दो गिलास लें। उन्हें ऊपर तक लबालब पानी से भर दें। एक गिलास में लकड़ी का टुकड़ा तैरा दें। बताएं, दोनों गिलासों में से कौन ज्यादा भारी है?
दोनों गिलासों का वजन एक समान होगा। इसका कारण यह है कि तैरता हुआ लकड़ी का टुकड़ा अपने वजन के बराबर पानी हटा देता है। लकड़ी के टुकड़े वाले गिलास में पानी कम है लेकिन टुकड़े का वजन इस कमी को बराबर कर देता है।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned