JEE और NEET उम्मीदवारों को वीकेंड्स पर सरकार देगी फ्री कोचिंग, ये मिलेंगी सुविधाएं

  • JEE And NEET Free Coaching Classes
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों मिलेगा इसका लाभ
  • कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को वर्चुअल स्मार्ट क्लासरूम से मिलेगी कोचिंग

By: Deovrat Singh

Published: 30 Nov 2020, 08:04 AM IST

JEE And NEET Free Coaching: उत्तराखंड शिक्षा विभाग ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के लिए बड़ी घोषणा की है। अब प्रदेश के जेईई और नीट उम्मीदवारों को वीकेंड्स पर फ्री में कोचिंग की सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। यह कोचिंग आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के विद्यार्थियों के लिए है, जिससे वे भी दूसरे विद्यार्थियों को इस राष्ट्रिय स्तर की परीक्षा में अच्छा कांपटीशन दे सकें। पैसे के अभाव में सही गाइडेंस न मिल पाने से इन स्टूडेंट्स की तैयारी में किसी प्रकार की कोई कमी न आए इसलिए वर्चुअल क्लासरूम के माध्यम से इन्हे कोचिंग क्लासेस की सुविधा दी जाएगी।

दरअसल नीट और जेईई जैसी परीक्षाओं के लिए मोटी फीस देनी होती है। बहुत से स्टूडेंट्स इन्हें एफॉर्ड करने की स्थिति में नहीं हैं। ऐसे में उन्हें काफी राहत मिलेगी।

स्मार्ट क्लासरूम्स की सुविधा
स्टेट एजुकेशन डिपार्टमेंट ने सभी जिला स्तर के अधिकारियों को वीकेंड्स पर कक्षा दसवीं और बारहवीं के विद्यार्थियों को वर्चुअल स्मार्ट क्लासरूम से कोचिंग देने के निर्देश दिए हैं। वर्तमान में करीब 500 सरकारी स्कूलों में स्मार्ट क्लासरूम्स की सुविधा उपलब्ध है। आदेश में यह भी कहा गया है कि क्लास दस से बारह के बच्चों को पढ़ाने के लिए भी इन वर्चुअल क्लासरूम्स का प्रयोग किया जाए।

Read More: डिजिटल एजुकेशन के लिए कक्षा 8वीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों को नि:शुल्क टैबलेट देगी सरकार

Read More: QS World University Ranking 2021: देश के 8 संस्थानों ने बनाई टॉप 500 में जगह

विभाग ने अधिकारियों के लिए जारी ऑर्डर में आगे कहा गया है कि ये एडिशनल कोचिंग क्लासेस उन स्टूडेंट्स के लिए होंगी जो अगले साल की जेईई और नीट परीक्षा देना चाहते हैं। शेड्यूल के अनुसार ये क्लासेस 02 दिसंबर 2020 से आरंभ होंगी और सुबह दस से दोपहर दो के बीच संचालित की जाएंगी। इन क्लासरूम्स के माध्यम से स्टूडेंट्स को कुछ मुख्य विषय पढ़ाए जाएंगे जैसे – फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी इत्यादि।

यह वर्चुअल क्लासरूम्स देहरादून में स्थित राजीव गांधी नवोदय स्कूल के सेंट्रल स्टूडियों से सेंट्रलाइज किए जाएंगे। इन क्लासेस की मदद से वे कैंडिडेट्स जो चाहने के बावजूद नीट और जेईई जैसी परीक्षाओं की तैयारी नहीं कर पा रहे थे कि काफी मदद हो जाएगी। अब वे इनकी सहायता से एडिशनल गाइडेंस पा सकेंगे।

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned