अकाउंट में पैसे खत्म होने पर नहीं होना पड़ेगा परेशान, मिलेगी 3 महीने की ADVANCE PENSION

  • सरकार को सताी दिव्यांगों की चिंता
  • कोरोना में देगी राहत
  • 3 महीने की पेंशन एडवांस देने का फैसला

By: Pragati Bajpai

Updated: 23 Apr 2020, 04:18 PM IST

नई दिल्ली: पूरी दुनिया में फैले कोरोनावायरस की वजह से सभी परेशान हैं। दरअसल अब लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि आखिर ये बीमारी खत्म होगी तो कैसे और ये लॉकडाउन कितना लंबा चलेगा। लॉकडाउन की वजह से लोगों की कमाई के साधन बंद है वहीं अकाउंट में पड़े पैसे भी हमेशा नहीं चल सकते हैं। बल्कि वर्ग ऐसा भी है जो अपने कामों के लिए बार-बार बैंक भी नहीं जा सकते हैं। हम बात कर रहे हैं वृद्ध, विधवा महिलाएं और दिव्यांगों की ।

Pm Fasal Bima Yojna का क्लेम हासिल करने के लिए जरूरी है एड्रेस प्रूफ, जानें क्लेम का प्रोसेस

केंद्र सरकार इन लोगों के लिए National Social Assistance Programme चलाती है और इसके तहत इन्हें पेंशन दी जाती है । ये योजना 15 अगस्त 1995 में शुरू की गई थी। इसके तहत ऐसे बुजुर्ग लोगों को हर महीने 10 किलोग्राम खाद्दान्न दिया जाता है, जिन्हें किसी तरह की पेंशन नहीं मिलती है। अभावों से जूझ रहे परिवारों तक नकद हस्तांतरण की सुविधा के अलावा खाद्य सुरक्षा और स्वास्थ्य बीमा जैसी तमाम सुविधाएं दी जाती है। कोरोना वायरस संकट के बीच मोदी सरकार इसी योजना के तहत लाभार्थियों के खाते में 3 महीने की एडवांस पेंशन भेज रही है।

कोरोना काल में कर रहे हैं निवेश, तो इन बातों का रके ख्याल

अन्य योजनाओं के लाभार्थी भी हैं शामिल- NSAP में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना (IGNOAPS), इंदिरा गांधी राष्ट्रीय दिव्यांगता पेंशन योजना (IGNDPS), राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना (NFBS और अन्नपूर्णा), इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना (IGNWPS), शामिल हैं। वृद्धावस्था पेंशन योजना में केंद्र और राज्य, दोनों सरकारें मिलकर योगदान करती है। इसी वजह से अलग-अलग राज्य में पेंशन की रकम अलग-अलग होती है।

Show More
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned