विश्व प्रसिद्ध तिरुमला मंदिर बंद, दर्शन के लिए जा रहे श्रद्धालु में दिखे Coronavirus के लक्षण, प्रशासन अलर्ट

Andhra Pradesh News: कुछ ऐसा ही हाल श्री कालाहस्ती मंदिर का है। मंदिर में होने वाली राहु-केतु सर्पदोष निवारण पूजा सेवाओं को 31 मार्च तक रद्द कर दी गई है (Tirumala Temple Closed Due To Coronavirus Fear)...

By: Prateek

Updated: 19 Mar 2020, 05:43 PM IST

(तिरुपति): आंध्र प्रदेश के चित्तूर ज़िले में स्तिथ विश्व प्रसिद्ध तिरुमला श्री वेंकेटेश्वर सस्वामी मंदिर गुरुवार शाम को तत्काल बंद कर दिया गया। मिली जानकारी अनुसार महाराष्ट्र निवासी श्रद्धालु वाराणसी यात्रा करने के बाद तिरुमला मंदिर में दर्शन करने पहुंचा था। बस से उतर कर दर्शन करने जाते समय वह चक्कर खाकर सड़क पर गिर गया।


श्रद्धालु में कोरोना के लक्षण पाए गए। उसे तुरंत विशेष एम्बुलेंस से तिरुपति के आइसोलेशन वार्ड भेजा गया। हालांकि उसके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि नहीं हो पाई है। इसके बाद तिरुमला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) ने तिरुपति से पैदल तिरुमला पहुँचने वाले अलपिरि मार्ग को बंद कर दिया। इसी के साथ बसों के पहाड़ पर स्थित तिरुमला जाने पाबंदी लगा दी गई। तिरुमला में मौजूद भक्तों काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। टीटीडी अभी तिरुमला में फसे लोगों को नीचे लाने में लगा है। तिरुमला को खली कराया जा रहा है।

 

कुछ ऐसा ही हाल श्री कालाहस्ती मंदिर का है। मंदिर में होने वाली राहु-केतु सर्पदोष निवारण पूजा सेवाओं को 31 मार्च तक रद्द कर दी गई है। इससे श्रद्धालुओं में निराशा देखी जा रही है। राहु-केतु पूजा मंडप में जहा लाखों भक्तों की भीड़ पूजा करने के लिए जमा होती थी आज वही मंडप सुनसान पड़े है। अधिकारियों ने कोरोना वायरस के मद्देनजर श्रीकालाहस्तीवारा में राहु-केतु सर्पदोष निवारण पूजा को रद्द करने का फैसला किया है। अभिषेक, चंडी, अनुष्ठान, विवाह समारोह और अर्जित सेवाओं को पूरी तरह से समाप्त करने का भी निर्णय लिया गया। मंदिर के ईओ चंद्रशेखर रेड्डी ने कहा कि इस महीने की 31 तारीख तक सेवाओं को रद्द कर दिया गया है।

coronavirus
Show More
Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned