दरवाजे पर कोई रख जाता था जले हुए नींबू, देखने के लिए लगवाए कैमरे तो कैद हो गई ये घटना

राऊ पुलिस ने दोनों पक्षों पर कांउंटर केस दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

By: Faiz

Published: 01 Jul 2020, 03:21 PM IST

इंदौर/ मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर की बृज विहार कॉलोनी में एक घर के बाहर कोई अनजान व्यक्ति रोजाना जला हुआ नींबू रखकर चला जाता था। घर के लोगों ने टोटके के संदेह में घर के दरवाजे पर CCTV कैमरा लगवा लिया। छात्रा के कैमरे लगवाने के बाद पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति ने उसे लोहे की रॉड मारकर घायल कर दिया। घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया, जिसे पुलिस ने मामले की पड़ताल के लिए लिया है। फिलहाल, राऊ पुलिस ने दोनों पक्षों पर कांउंटर केस दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP Corona Update : मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 13593, अब तक 572 ने गवाई जान


पुलिस ने दर्ज किया काउंटर केस

पुलिस के मुताबिक, छात्रा आरती तिवारी की शिकायत पर हेमा चौहान, सरिता चौहान, सावित्री, सचिन चौहान के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। जबकि दूसरे पक्ष से सावित्री चौहान की शिकायत पर आरती, अभिषेक, श्याम कुमारी तिवारी के खिलाफ केस किया गया है। कैमरा आरती ने लगवाया था। सावित्री ने घर के सामने कैमरे का एंगल करने पर आपत्ति जताई, जिसपर विवाद की स्थिति बन गई। फिलहाल, घायल छात्रा अस्पताल में भर्ती है।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP Weather Update : जून में ही औसत से कई गुना ज्यादा हुई बारिश, 48 घंटे बने रहेंगे ये हालात


घायल छात्रा ने कही ये बात

घायल छात्रा आरती तिवारी ने पुलिस को दिये बयान में बताया कि, कोई शख्स रोजाना रात के समय उनके घर के दरवाजे पर जला हुआ नींबू रखकर जा रहा था। हमने कई प्रयास किये बावजूद इसके पता नहीं चल पा रहा था कि, आखिर ये किसी की शरारत है या कोई हमारे ऊपर जादू टोना करना चाहता है। इस घटना से परिवार काफी डरा हुआ था। आखिरकार हमने घर के दरवाजे पर सीसीटीवी लगवा लिया, ताकि हकीकत का पता लगा सकें। हालांकि, घर के नज़दीक सीसीटीवी लगवाना पड़ोसियों को ना गवार गुजरा और वो उसे हटवाने के लिए विवाद पर उतर आए। हालांकि, पुलिस अब दूसरे पक्ष से भी मामले को लेकर पूछताछ कर रही है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned