मौसम की बेरुखी से अस्पतालों की ओपीडी में दोगुने हुए मरीज

मौसम की बेरुखी से अस्पतालों की ओपीडी में दोगुने हुए मरीज

Reena Sharma | Updated: 20 Jul 2019, 03:56:56 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

शहर में मच्छरजनित रोगों का खतरा बढ़ा

इंदौर. अच्छी बारिश के बाद कई दिनों से पानी नहीं बरसने से तापमान में तेजी से हुए उतार-चढ़ाव का असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। बच्चों और बुजुर्गों को सर्दी-खांसी, जुकाम, वायरल बुखार के साथ शरीर में दाने निकल रहे हैं। अस्पतालों की ओपीडी में डेढ़ से दो गुना तक मरीज बढ़े हैं।

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

एमवाय अस्पताल की ओपीडी में रोज अमूमन दो हजार से ढाई हजार मरीज पहुंचते हैं। अब साढ़े तीन से चार हजार तक पहुंच रहे हैं। सबसे ज्यादा भीड़ मेडिसिन विभाग में है। यहां लगभग एक हजार मरीज आ रहे हैं। विभाग की ओपीडी में आने वाले मरीजों में 60 से 70 फीसदी वायरल बुखार, सर्दी-जुकाम व पेट में तकलीफ वाले हैं। आंख व त्वचा के संक्रमण के मामले भी बढ़ रहे हैं। निजी अस्पतालों में भी मरीजों की संख्या बढ़ी है। चाचा नेहरू अस्पताल के अधीक्षक डॉ. हेमंत जैन ने बताया, रोज करीब 500 बच्चे ओपीडी पहुंचते हैं, अभी 700 के करीब पहुंच रहे हैं।

must read : कमजोर अंगेजी ने इस प्लेसमेंट सीजन में छिनी 9 हजार के हाथ से नौकरियां

यह रखें सावधानी

- पानी उबालकर पिएं।
- बाहर की चीजें न खाएं।
- आइसक्रीम, कोल्ड्रिंक्स व अन्य ठंडी चीजों से बचें।
- गला खराब होने पर गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करें।
- खांसते-छींकते वक्त मुंह पर कपड़ा लगाएं।

must read : इंदौरी पोहा और शिकंजी की ब्रांडिंग मेंं सहयोग का वादा

शहर में मलेरिया के मामले भी बढ़े

बारिश के मौसम में नमी बढऩे से बैक्टीरिया व वायरस से होने वाली बीमारियां बढ़ जाती हैं। ज्यादातर मरीज सर्दी, खांसी, बुखार, पेट की तकलीफ की शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं। अभी मलेरिया के मामले सामने आ रहे हैं। अच्छी बारिश नहीं हुई तो मच्छरजनित डेंगू, चिकनगुनिया व अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाएगा। इस मौसम में कुछ सावधानियां रखकर बीमारियों से बचा जा सकता है।

डॉ. धर्मेंद्र झंवर, प्रोफेसर, मेडिसिन विभाग, एमवायएच

must read : मैडम को अंतिम विदाई देते ही फूट-फूटकर रोने लगे स्टूडेंट्स, पांच साल की बेटी ढूंढती रही मां

लोगों को जागरूक करेंगे

इस वर्ष अब तक मलेरिया के 11 और डेंगू के दो मामले रिकॉर्ड में दर्ज किए गए हैं। बारिश रुकने के बाद जमा पानी में मच्छर पनपते हैं। इनके लिए नगर निगम के साथ मिलकर मुहिम चलाई जा रही है। लोगों में जागरूकता बढ़ाने के भी प्रयास किए जा रहे हैं।

डॉ. धर्मेंद्र जैन, जिला मलेरिया अधिकारी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned