script'Lakshmi Kripa raining in the form of crypto currency' | 'क्रिप्टो करंसी के रूप में बरस रही 'लक्ष्मी कृपा | Patrika News

'क्रिप्टो करंसी के रूप में बरस रही 'लक्ष्मी कृपा

शेयर बाजार को पीछे छोड़ आगे बढ़ रहा नया बाजार, युवाओं का ज्यादा जोर, पांच साल पहले जो बिट क्वाइन 45 रुपए का था, अब उसके मिल रहे 47 लाख

इंदौर

Published: November 04, 2021 01:45:11 pm

प्रमोद मिश्रा

इंदौर. एक समय था कि लोग फायदे के लिए शेयर बाजार में निवेश करते थे, लेकिन अब क्रिप्टो करंसी के जरिए लोगों पर लक्ष्मी बरस रही है। क्रिप्टो करंसी का ऑनलाइन नया बाजार खड़ा हो गया है।
करीब पांच साल पहले बिट क्वाइन आया तो सवाल उठे थे। उस समय एक बिट क्वाइन 45 रुपए का था, लेकिन बुधवार दोपहर को इसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 47,06,417 रुपए हो गई थी यानी बंपर कमाई। हालांकि, विशेषज्ञों कहते हैं, सावधानी व पूरी जानकारी लेकर ही इसमें निवेश करना चाहिए। इस वक्त सॉफ्टवेटर इंजीनियर, मैनेजमेंट विशेषज्ञ, बैंकर, एमबीए का जोर ई करंसी पर है और अभी किसी को नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि कमाई ज्यादा होने से साइबर ठगोरे के निशाने पर भी क्रिप्टो करंसी आने लगी है और हड़पने के नए तरीके इजाद होना शुरू हो गए है।
'क्रिप्टो करंसी के रूप में बरस रही 'लक्ष्मी कृपा
'क्रिप्टो करंसी के रूप में बरस रही 'लक्ष्मी कृपा
मोबाइल ऐप और वेबसाइट के जरिए निवेश

क्रिप्टो करंसी में निवेश ऑनलाइन हो रहा है। पहले डार्क नेट में इस्तेमाल होता था, अब ज्यादा देशों में यह वैध हो गया है। भारत ने हाल ही में हरी झंडी दी है। प्रोबिट डॉट कॉम, क्वाइन जेनपे, डीसीएक्स, यूनो क्वाइन, विज एक्स, क्वाइन स्विच मुख्य नाम हैं, जिसके जरिए निवेश हो रहा है।
बैंक खाते से कर सकते है लेन देन
भारत में ई करंसी को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं थी, फिर भी बड़ी संख्या में युवा इसमें निवेश कर रहे थे। अप्रेल 2018 में क्रिप्टो करंसी को पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया था। आरबीआइ ने हालही में इसे मंजूरी दे दी है। अब कोई भी इसमें निवेश कर सकता है।
साइबर अपराधी भी सेंध लगा रहेे

साइबर एसपी जितेंद्रसिंह के मुताबिक, क्रिप्टो करंसी से जुड़े साइबर क्राइम की शिकायतें भी आने लगी है। जो भी इसमें निवेश करें उसे पूरी सावधानी रखने की जरूरत है।
जापान में सबसे पहले हुई शुरुआत
विशेषज्ञों को मुताबिक, क्रिप्टो करंसी को सबसे पहले जापान ने अपनाया और अब कई देश इसे अधिकारिक रूप दे चुके है। जापान में इस करंसी के जरिए दुकानों में भुगतान की सुविधा भी काफी पहले दे दी गई थी।
क्रिप्टो करंसी पर ज्यादा जोर पर रखें सावधानी

साइबर एक्सपर्ट शोभित चतुर्वेदी के मुताबिक, वर्तमान दौर में शेयर बाजार को काफी पीछे छोड़कर ई करंसी का दौर चल रहा है। युवा वर्ग इसी में निवेश कर रहा है। निवेश सावधानी से करना होगा क्योकि नुकसान भी हो सकता है। पूरा सिस्टम ऑनलाइन प्रक्रिया यानी वेबसाइट, मोबाइल ऐप से चल रहा है।
निवेश करते ही होता है रजिस्ट्रेशन
जैसे ही कोई किप्टो करंसी में इनवेस्ट करता है तो उसकी चेन बुक बन जाती है। कंट्रोलर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है और आपके नाम से निवेश स्वत: रजिस्टर हो जाता है। इस चेन को कोई ब्लॉक नहीं कर सकता है, इसलिए अभी तक किसी भी धोखाधड़ी का मामला सामने नहीं आया है। निवेश करने से पहले वेबसाइट अथवा ऐप में ग्रीन लॉक देख लें और फिर निवेश करें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.