शर्मनाक: लेफ्टीनेंट कर्नल ने एमईएस के स्टेनो से मिलकर कर दिया शर्मनाक काम, सेना को किया बदनाम

शर्मनाक: लेफ्टीनेंट कर्नल ने एमईएस के स्टेनो से मिलकर कर दिया शर्मनाक काम, सेना को किया बदनाम

 

By: Lalit kostha

Updated: 16 Dec 2020, 01:52 PM IST

जबलपुर। एक्स आर्मीमैन के बेटे को सेना में भर्ती कराने के नाम पर एक लाख 99 हजार रुपए लेने के मामले में केंट पुलिस ने ग्रेनेडियर्स रेजीमेंटल सेंटर (जीआरसी) के एक लेफ्टीनेंट कर्नल, एमईएस के स्टेनों सहित एक अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया। पुलिस ने मामले में स्टेनो को गिरफ्तार कर लिया है।

केंट थाना पुलिस की कार्रवाई : एक्स आर्मीमैन के बेटे को नौकरी दिलाने के नाम पर पैसे लेने का मामला

ये है मामला
केंट थाना प्रभारी विजय तिवारी ने बताया कि ग्रेनेडियर्स रेजीमेंटल सेंटर में मार्च में एक्स आर्मीमैन के परिजन की भर्ती होती है। इसमें एक एक्स आर्मीमैन के बेटे अंकित की भर्ती होनी थी। इसी दौरान अंकित के भाई की मुलाकात एमईएस के स्टेनो विक्रांत रेढ़ी से हुई। विक्रांत ने जीआरसी के ले. कर्नल ईश्वर सिंह के माध्यम से यह काम कराने की बात कही। इसके बाद उनमें सौदा हुआ।

टीआई तिवारी के अनुसार लेफ्टीनेंट कर्नल ईश्वर सिंह ने वॉट्सऐप पर स्टेनो विक्रांत को दो चेक के फोटो भेजे। चेक झारखंड के रामगढ़ निवासी सुमित यादव के थे। चेक से ही बैंक की जानकारी मिली और एक लाख 99 हजार रुपए खाते में जमा कराए गए। तिवारी ने बताया कि विक्रांत आठ दिसम्बर को ग्रेनेडियर्स गया था। वहां वह संदिग्ध अवस्था में घूमते हुए पकड़ा गया। अधिकारियों ने पूछताछ की, तो मामले का खुलासा हुआ। वॉटसऐप चैटिंग के स्क्रीन शॉट भी जब्त किए गए हैं।

अंकित को जानकारी नहीं
तिवारी के अनुसार अंकित को पैसों के लेनदेन की जानकारी नहीं है। पैसे अंकित के भाई ने दिए हैं। उससे भी पूछताछ की जाएगी। पुलिस ने फिलहाल स्टेनो विक्रांत को गिरफ्तार कर लिया है। सुमित की तलाश की जा रही है।

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned