देर आयद दुरुस्त आयदः MP के 38 हजार से ज्यादा बिजली कर्मियों और उनके परिवार के लिए बड़ी राहत

-मध्य प्रदेश पॉवर मैनेजेमेंट कंपनी ने लिया बड़ा फैसला

By: Ajay Chaturvedi

Published: 27 Sep 2020, 01:14 PM IST

जबलपुर. डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टॉफ, सफाईकर्मियों के साथ ये बिजली कर्मचारी भी इस कोरोना काल में पिछले मार्च से ही लगातार जान जोखिम में डाल कर घरों को रोशन किए हैं। अब मध्य प्रदेश पॉवर मैनेजमेंट कंपनी को इनकी सुधि आई है। कंपनी ने बड़ा फैसला करते हुए कहा है कि प्रदेश के बिजली कर्मी यदि कोरोना पॉजिटिव होते हैं तो उनके उपचार पर आने वाला खर्च कंपनी वहन करेगी।

शनिवार को मध्य प्रदेश पॉवर मैनेजमेंट कंपनी ने इस आशय का आदेश जारी कर दिया है। जल्द ही विद्युत वितरण कंपनी और मध्य प्रदेश पॉवर जनरेशन कंपनी और मध्य प्रदेश पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी के स्तर से भी इस आदेश को जारी किया जाएगा।

पॉवर मैनेजमेंट कंपनी के मानव संसाधन विभाग के वीरेंद्र साहू ने बताया कि पीएमसी में 558 अधिकारी-कर्मचारी हैं, जिन्हें इसका आदेश का लाभ होगा। उनके अनुसार जल्द अन्य बिजली कंपनियां भी इस संबंध में आदेश जारी करेंगी। प्रदेश के करीब 38 हजार से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा। कंपनी ने साफ किया कि कर्मचारी अथवा उनके आश्रित सदस्य कोविड-19 की महामारी से ग्रसित होते हैं तो इलाज मप्र के समस्त अशासकीय निजी चिकित्सालयों में अतिरिक्त रोगी के तौर पर जांच, उपचार एवं दवाइयां आदि चिकित्सा व्यय की प्रतिपूर्ति की जाएगी। शासन के द्वारा मान्यता प्राप्त चिकित्सालयों की सूची भी कंपनी ने वेबसाइट पर प्रदर्शित की है।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned