कोडिंग की मदद से बेटे ने बनाया पिता के लिए सिंचाई में उपयोगी ऐप

बेटे के इस नवाचार के बाद सूर्यकांत की जिंदगी बदली है।

By: Archana Kumawat

Published: 22 Jul 2021, 11:01 PM IST


महाराष्ट्र. नंदुरबार जिले के तालोदे गांव के योग पंजारले ने अपने पिता डॉ. सूर्यकांत को खेती के लिए रात भर जागते देखा है। इस क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति दिन के समय बहुत ही कम होती है। इसलिए खेती के लिए बिजली का उपयोग रात में ही किया जा सकता है। सप्ताह में तीन बार पिता रात भर जागते और घर से छह किलोमीटर दूर खेत में जाकर सिंचाई के लिए मोटर चालू करते थे। इस बात से परेशान योग ने लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन कोडिंग सीखी और पिता के लिए एक डिवाइस और ऐप को डवलप किया। यह डिवाइस मोबाइल ऐप से संचालित होती है, जिसे मोबाइल नेटवर्क से चलाया जा सकता है। फिंगर प्रिंट से कमांड दी जा सकती है। इस तरह पिता घर बैठे ही पानी की मोटर को संचालित और बंद कर सकते हैं। इससे पानी की भी बचत हुई। बेटे के इस नवाचार के बाद सूर्यकांत की जिंदगी बदली है।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned