राजस्थान: महिला कांग्रेस की नई कार्यकारिणी घोषित, जानें जयपुर में क्या किया गया 'नया प्रयोग'

महिला कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा, एक दर्जन जिलों में नए अध्यक्ष, पहली बार जयपुर हेरिटेज में बनाया अध्यक्ष, 30 उपाध्यक्ष, 45 महासचिव और 31 सचिव बने हैं प्रदेश कार्यकारिणी में काम करने वालों को किया गया पदोन्नत

By: firoz shaifi

Published: 15 Feb 2021, 01:45 PM IST

जयपुर।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेहाना रियाज़ ने महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव की सहमति से आज अपनी नई प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा कर दी है। कार्यकारिणी में सोशल इंजीनियरिंग का फॉर्मूला अपनाते हुए सभी वर्गों को प्रतिनिधित्व दिया गया है। महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रेहाना रियाज़ ने अपनी नई कार्यकारिणी में 30 उपाध्यक्ष, 45 महासचिव और 31 प्रदेश सचिव बनाए हैं।

 

कार्यकारिणी में 7 पूर्व अध्यक्षों को भी जगह दी गई है। महिला कांग्रेस की पूर्व कार्यकारिणी में बेहतर काम करने वाले पदाधिकारियों को फिर से मौका देते हुए उन्हें पदोन्नत किया गया है। साथ ही महासचिव और सचिव में नए चेहरों को मौका दिया गया है।

 

एक दर्जन जिलों में नए अध्यक्ष

महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रिहाना रियाज ने एक दर्जन जिलों में नए अध्यक्षों की नियुक्ति की है। इनमें टोंक, बांसवाड़ा, जयपुर हेरिटेज, दौसा, धौलपुर, हनुमानगढ़, जयपुर देहात ए, झुंझुनू, करौली, पाली और अलवर शहर है।

 

6 जिलों में जल्द बनेंगे नए अध्यक्ष

प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रेहाना रियाज ने बताया कि जयपुर ग्रेटर, जोधपुर ग्रामीण, अजमेर शहर, अजमेर ग्रामीण, डूंगरपुर और भरतपुर में जल्द नए अध्यक्ष बनाए जाएंगे।

 

जयपुर में पहली बार दो अध्यक्ष
महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष रेहाना रियाज ने जयपुर शहर के दो नगर निगमों जयपुर हेरिटेज और जयपुर ग्रेटर को ध्यान में रखते हुए इस बार दो अध्यक्ष बनाने का फैसला लिया। जयपुर हेरिटेज में नए अध्यक्ष की घोषणा कर दी है जबकि ग्रेटर में जल्द ही नए अध्यक्ष की घोषणा होगी। गौरतलब है कि कांग्रेस आलाकमान के निर्देश पर रेहाना रियाज़ ने अपनी कार्यकारणी को भंग कर दिया था। अब आज नई कार्यकारिणी की घोषणा की है।

Congress
firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned