DRDO recruitment - जूनियर रिसर्च फेलो के 10 पदाें पर भर्ती, करें आवेदन

DRDO recruitment - जूनियर रिसर्च फेलो के 10 पदाें पर भर्ती, करें आवेदन

Yuvraj Singh Jadon | Publish: Jul, 28 2018 08:06:04 PM (IST) जॉब्स

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ( DRDO ) ने जूनियर रिसर्च फेलो के 10 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए

DRDO Junior research Fellow recruitment 2018 , रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ( DRDO ) ने जूनियर रिसर्च फेलो के 10 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक व योग्य उम्मीदवार इन पदाें के लिए 02 अगस्त को आयोजित होने वाले वाॅक इन इंटरव्यू में शामिल हो सकते हैं। आवेदन अाैर अन्य जानकारी के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन ( DRDO ) में रिक्त पदाें का विवरणः
जूनियर रिसर्च फेलो, Junior Research Fellow - 10 पद

विभागानुसार पदाें का विवरणः
- गणित - 04 पद
- कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग / सूचना प्रौद्योगिकी / कंप्यूटर विज्ञान - 03 पद

- इलेक्ट्रॉनिक्स / इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार - 03 पद

 

वेतनमान : 25,000 रूपए।

आयु सीमाः 28 साल

शैक्षणिक योग्यताः
Mathematics - NET/GATE के साथ Mathematics में पोस्ट ग्रेजुएट की डिग्री।

Computer Science & Engineering /Information Technology /Computer Science-

Electronics/Electronics & Communications Engineering- NET/GATE के साथ BE/B.TECH प्रोफेशनल कोर्स की प्रथम श्रेणी डिग्री। या ME/M.TECH प्रोफेशनल कोर्स की पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री।

 

चयन प्रक्रियाः आवेदकों का चयन इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा।

साक्षात्कार का स्थानः
SAG, Metcalfe House Delhi -110054

नोटः आवेदक साक्षात्कार के समय विज्ञप्ति में दिए गए आवश्यक दस्तावेज मूल व उनकी स्वयं प्रमाणित फोटोकाॅपी साथ लेकर आएं।


महत्वपूर्ण तिथिः
साक्षात्कार की तिथि : 02 अगस्त 2018

 

DRDO Junior research Fellow recruitment 2018 :

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ( DRDO ) में जूनियर रिसर्च फेलो के 10 रिक्त पदाें पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

 

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन ( DRDO ) का परिचयः

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ( DRDO, डिफेंस रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट ऑर्गैनाइज़ेशन ) भारत की रक्षा से जुड़े अनुसंधान कार्यों के लिये देश की अग्रणी संस्था है। यह संगठन भारतीय रक्षा मंत्रालय की एक आनुषांगिक ईकाई के रूप में काम करता है। इस संस्थान की स्थापना 1957 में भारतीय थल सेना एवं रक्षा विज्ञान संस्थान के तकनीकी विभाग के रूप में की गयी थी। वर्तमान में संस्थान की अपनी इक्यावन प्रयोगशालाएँ हैं जो इलेक्ट्रॉनिक्स, रक्षा उपकरण इत्यादि के क्षेत्र में अनुसंधान में रत हैं। पाँच हजार से अधिक वैज्ञानिक और पच्चीस हजार से भी अधिक तकनीकी कर्मचारी इस संस्था के संसाधन हैं। यहां राडार, प्रक्षेपास्त्र इत्यादि से संबंधित कई बड़ी परियोजनाएँ चल रही हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned