कोरोना महामारी में 15 से 20 प्रतिशत लोग मानसिक अस्वस्थता के शिकार

संगोष्ठी में मनोचिकित्सक दी जानकारी

By: Jay Kumar

Published: 11 Jan 2021, 02:28 PM IST

जोधपुर. मनोचिकित्सक डॉ. अरविंद बारड़ का कहना है कि, कोरोना महामारी के बीच लगभग 15 प्रतिशत से से 20 प्रतिशत लोग मानसिक अस्वस्थता के शिकार हुए, कोई डिप्रेशन में चला गया तो कोई कोरोना हो जाने के भय के चलते परेशान हो गया तो वहीं दूसरी और कुछ ऐसे भी थे जिनको कोरोना नहीं हुआ मगर कोरोना के भय ने परेशान करके रख दिया। डॉ बारड़ ने जोधपुर के स्टील भवन में आरोग्य भारती, विवेकानंद केंद्र और योग समिति द्वारा आयोजित संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। आरोग्य भारती की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य प्रियंका झाबक ने जानकारी देते हुए बताया कि, मनोचिकित्सक डॉक्टर अरविंद बारड़, आयुर्वेद महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ गोविंद सहाय शुक्ला, योग विशेषज्ञ संजय कपूर और एम्स के योग शिक्षक रामचंद्र शर्मा सहित विभिन्न विषय विशेषज्ञों ने शिरकत की। संचालन गजेंद्र सिंह के किया। इस कार्यक्रम में आरोग्य भारती जोधपुर अध्यक्ष बृजकिशोर माथुर, सत्यमेव जयते सिटीजन सोसायटी अध्यक्ष विमला गट्टानी, सेवानिवृत्त बैंक अधिकारी प्रवीण मेढ़, समाजसेवी ललित सुराणा व आयुर्वेद विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डॉ. पीपी व्यास भी मौजूद रहे।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned