कोरोना की संदिग्ध युवती अस्पताल से निकली, पुलिस ने पीछा कर पकड़ा

मथुरादास अस्पताल में कोरोना वायरस संदिग्ध एक युवती ( Corona suspected woman ) गुरुवार रात जांच के बहाने चकमा देकर गायब हो गई। तलाश करते हुए पुलिस घर पहुंची तो युवती मिल गई। उसे फिर से अस्पताल में भर्ती कराया गया...

जोधपुर। मथुरादास अस्पताल में कोरोना वायरस संदिग्ध एक युवती ( Corona suspected woman ) गुरुवार रात जांच के बहाने चकमा देकर गायब हो गई। तलाश करते हुए पुलिस घर पहुंची तो युवती मिल गई। उसे फिर से अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार 21 वर्षीय युवती चार दिन पूर्व लंदन से लौटी थी। प्रशासन के आग्रह पर अस्पताल आकर जांच करवाने आई थी। उसके सैंपल लिए गए। इस युवती की जांच रिपोर्ट रात को नेगेटिव आई।

इस बीच युवती ने अस्पताल में सुविधाएं न होने का विरोध जताया। शाम को जांच कराने के बहाने वह सुरक्षाकर्मी को चकमा देकर वार्ड से बाहर निकल गई। इससे अस्पताल में हडक़ंप मच गया। कर्मचारियों ने तलाश की फिर न मिलने पर पुलिस की मदद ली गई।

पुलिस युवती के पासपोर्ट ऑफिस के सामने पाल रोड स्थित घर पहुंचीं। जहां वह मिल गई। तब पुलिस ने राहत की सांस ली। उसे लाकर वापस अस्पताल में भर्ती किया गया।
जानकारी अनुसार युवती घर से लाने के बाद एंबुलेंस में बैठ गई और अस्पताल के ऊपर बने वार्ड में नहीं आने की जिद करने लगी। उसके बाद लेडी कांस्टेबल को बुलाया गया। ऊपर लाए तो काफी देर तक अंदर नहीं गई। फिर उसे अंदर लाया गया। ये युवती भी संदिग्धों को भर्ती किए जाने वाले आइसोलेशन वार्ड की अव्यवस्थाओं से खफा थी। इसकी रिपोर्ट बाद में नेगेटिव आ गई। अस्पताल अधीक्षक डॉ. महेन्द्र आसेरी ने बताया कि लडक़ी को बाद में अंदर लाया गया।

बड़ी लापरवाही
गनीमत रही कि युवती जांच में नेगेटिव निकली, वरना कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते युवती कइयों को संक्रमित कर सकती थी।

dinesh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned