सेना भर्ती रैली में गड़बड़ी को लेकर अब आर्मी की जीरो टॉलरेंस नीति

Indian Army

- सभी स्टेशन कमाण्डरों को पुलिस के साथ सहयोग करने के निर्देश
- पुणे में पेपर लीक में ले कर्नल पकड़ा गया, उदयपुर में भी दलाल पकड़े गए थे
- आगामी दिनों में जोधपुर व कोटा में होनी है लिखित परीक्षा, अजमेर में होगी रैली

By: Gajendrasingh Dahiya

Published: 28 May 2021, 05:20 PM IST

जोधपुर. देश के विभिन्न स्थानों पर हर साल होने वाली सेना भर्ती रैली में कोई न कोई दलाल पकड़े जाने, सेवानिवृत्त सैनिकों की मिलीभगत सामने आने और प्रश्न पत्र लीक के कुछ मामले सामने आने बाद अब आर्मी ने इसके विरुद्ध जीरो टोलरेंस नीति अपनाई है। आर्मी की दक्षिणी कमान ने अपने सभी स्टेशन कमाण्डर्स को इस तरह के मामलों को गंभीरता से लेने के साथ त्वरित निपटान के निर्देश दिए हैं। आर्मी ने सभी अधिकारियों को पुलिस के साथ विशेष तौर से सहयोग करने की बात कही है ताकि भर्ती रैली में गड़बडिय़ों की पुनरावृत्तियों को रोका जा सके और मामले का निपटारा जल्द हो सके।

उदयपुर में भी दलाल पकड़े गए, पुणे में पेपर लीक
आर्मी की ओर से फरवरी में देशभर में कॉमन एंट्रेंस एग्जाम के समय पुणे में पेपर लीक हो गया। इस मामले में हाल ही में एक सेवारत लेफ्टिनेंट कर्नल को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा मेजर रैंक के दो अधिकारी, एक क्लर्क, चार सेवानिवृत्त सैनिक और कुछ सिविलियन को पकड़ा। फरवरी में ही उदयपुर में ही हुई सेना भर्ती रैली में अभ्यर्थियों को मेडिकल परीक्षा में प्रवेश का झांसा देकर 10 हजार रुपए लेते हुए दलालों को रंगे हाथों पकड़ा। इसका भी कनेक्शन सीकर स्थित पूर्व सैनिक से सामने आया।

जोधपुर व कोटा में होनी है लिखित परीक्षा
लॉकडाउन के कारण आर्मी ने 25 अप्रेल को जोधपुर व कोटा में होने वाली लिखित परीक्षा टाल दी थी। अब आगामी दिनों सैनिक जीडी, सैनिक तकनीशियन, सैनिक क्लर्क एसकेटी और सैनिक ट्रेडमैन जैसे पदों के लिए होगी। परीक्षा को पारदर्शी बनाने के लिए सेना अब विशेष इंतजाम करेगी। उधर आगामी दिनों में अजमेर में भर्ती रैली भी आयोजित की जाएगी।

लाल व शुत्रओं के झांसे नहीं आए युवा
आर्मी की दक्षिणी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ (जीओसी इन सी) लेफ्टिनेंट जनरल जेएस नैन की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सभी उम्मीदवार दलालों और शत्रु तत्वों के नापाक मंसूबों का शिकार नहीं होवे। भर्ती प्रणाली को साफ और पारदर्शी रखने के लिए सेना का सहयोग करें। जोधपुर भी आर्मी की दक्षिणी कमान में आता है।

Gajendrasingh Dahiya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned