कोरोना: जुगाड़ से पेंशन दे रहा जेएनवीयू

JNVU Jodhpur

By: Gajendrasingh Dahiya

Published: 11 May 2021, 08:35 PM IST

जोधपुर. जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय ने लगातार दूसरे महीने अपने कर्मचारियों के पीएफ खाते से 2 करोड़ रुपए निकालकर सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पेंशन का भुगतान कर दिया। विवि के वर्तमान शिक्षकों और कर्मचारियों ने अपने द्वारा जमा की गई भविष्य निधि से इस प्रकार कटौती करने को लेकर रोष है। उन्होंने बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है। दरअसल तीन दशक बाद मई 2020 से विवि में पेंशन के लिए फण्ड के लाले शुरू हो गए हैं, जिसको एक साल हो गया है। पेंशन के लिए जेएनवीयू हर महीने कहीं न कहीं से जुगाड़ कर रहा है। विवि के करीब 1500 पेंशनर्स की हर महीने करीब 6 करोड़ रुपए पेंशन बन रही है। पीएफ फण्ड में 100 करोड़ रुपए में पड़े हैं। ऐसे में अब विवि पीएफ फण्ड से लोन लेकर पेंशन बांट रहा है। पिछले महीने भी पीएफ खाते से 5 करोड़ निकाले थे।

वाणिज्य संकाय के कर्मचारियों का वेतन 10 दिन बाद
विवि के वित्तीय कुप्रबंधन का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इस महीने विवि के वाणिज्य संकाय और सायंकालीन अध्ययन संस्थान के शिक्षकों और कर्मचारियों को समय पर वेतन नहीं मिला। सोमवार को जैसे-तैसे इनका भुगतान हुआ। विवि प्रशासन का कहना है सरकार से आने वाली ग्रांट इस बार नहीं आई।

......................

‘बगैर नियम व प्रावधान के पीएफ खाते से पैसे निकालना गलत है। यह विवि की भारी वित्तीय अनियमितता है।’
प्रो डीएस खीची, अध्यक्ष, जेएनवीयू शिक्षक संघ
‘इस तरह से पीएफ फण्ड खाली हो जाएगा। हम सेवानिवृत्त होंगे तो हम खाली हाथ घर जाएंगे। यह कुप्रबंधन है।’
अनिल पंवार, पूर्व अध्यक्ष, जेएनवीयू कर्मचारी संघ

......................
विवि का गैर जिम्मेदाराना जवाब
‘ग्रांट आ रही है और आती रहेगी। कोराना काल में आप अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखिए।’
मंगलाराम विश्नोई, वित्त नियंत्रक, जेएनवीयू जोधपुर

Gajendrasingh Dahiya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned