अब एप से होगा आरटी-पीसीआर जांच का पंजीकरण, कोविड-19 की चेन ब्रेक करने का है उद्देश्य

कोविड-19 वायरस संक्रमण की पहचान व चैन ब्रेक करने के उद्देश्य से जोधपुर में आरटी-पीसीआर टेस्ट सैंपल का एडवांस डाटा कलेक्शन किया जा रहा है। जिला प्रशासन के निर्देशन में कंटेनमेंट जोन शिविर लगाने के साथ डोट टू डोर सैंपलिंग गतिविधियां जारी है।

By: Harshwardhan bhati

Published: 16 May 2020, 03:00 PM IST

जोधपुर. कोविड-19 वायरस संक्रमण की पहचान व चैन ब्रेक करने के उद्देश्य से जोधपुर में आरटी-पीसीआर टेस्ट सैंपल का एडवांस डाटा कलेक्शन किया जा रहा है। जिला प्रशासन के निर्देशन में कंटेनमेंट जोन शिविर लगाने के साथ डोट टू डोर सैंपलिंग गतिविधियां जारी है। अभी तक अधिकतम सैंपलिंग डेटा ऑफ लाइन इंद्राज किया जा रहा था। अब इंडियन काउंसलिंग ऑफ मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट के आरटी-पीसीआर एप पर दर्ज किया जा रहा है।

जोधपुर में अब सैंपलिंग साइट से सैंपल लेने वाले नागरिक के सम्पूर्ण डेटा का संधारण करने में भी आसानी रहेगी। दूसरी ओर सैंपल देने वाले लोगों में भी अपनी जांच के स्टेटस जानने के बारे में असमंजस बना रहता था। अब हर कोई एप के लिंक एचटीटीपीएस://सीओवीआईडी19सीसी.एनआईसी.आईएन पार्टल पर जाकर नम्बर डालकर ओटीपी जनरेट करके अपनी जांच का स्टेटस मोबाइल या सैंपल आईडी से जान सकता है।

पुलिस ने कॉलोनियों में जाकर प्रवासियों को दी जानकारी
लॉकडाउन के दौरान काम धंधे चौपट होने के चलते फंसे प्रवासी श्रमिकों को अपने राज्य वापस भेजने के लिए स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है। कई बार यात्रियों की संख्या भी कम रह रही है। वहीं कई यात्रियों को जानकारी नहीं होने के चलते अपने गंत्वय स्थान तक पैदल ही निकल रहे हैं। इसके चलते शुक्रवार को बासनी थाना पुलिस ने बासनी क्षेत्र की विभिन्न कॉलोनियों में पुलिस वाहन के माध्यम से श्रमिकों को यूपी के लिए स्पेशल ट्रेन चलाए जाने की जानकारी दी।

पुलिस ने इंदिरा कॉलोनी, नई कॉलोनी, सांगरिया बाइपास, सांगरिया फांटा सहित दिन भर विभिन्न कॉलोनियों में जाकर प्रवासी श्रमिकों को सरकार की ओर से चलाई जा रही ट्रैनों के बारे में जानकारी दी। साथ ही उन्हें श्रमिकों को सांगरिया गांव में चल रहे प्रशासन के शिविर में जाकर रजिस्ट्रैशन करवाने के लिए जागरूक किया गया। गौरतलब है कि शुक्रवार को यूपी के सहारनपुर के लिए ट्रैन रवाना हुई थी। जिसमें यूपी के प्रवासियों की स्कैनिंग करने के बाद उन्हें अपने प्रदेश के लिए रवाना किया गया।

coronavirus Coronavirus in india
Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned