पश्चिमी हवा से गायब धूल ने साफ की आबोहवा

Thar Weather

- हवा का पैटर्न बदलने का असर

By: Gajendrasingh Dahiya

Published: 03 Jul 2021, 07:50 PM IST

जोधपुर.हर साल पाकिस्तान व ईरान से आने वाली पश्चिमी हवाओं के कारण ही प्रदेश में आंधियां आने के साथ भीषण गर्मी भी पड़ती है. लेकिन इस साल बदली हवाओं की दिशा ने मई-जून में गर्मी नहीं बढऩे दी। इन दोनों ही महीनों में दक्षिण-पश्चिमी हवा चलने से पारा काबू में रहा। अब पिछले चार पांच दिन से पश्चिमी हवा तो शुरू हुई है, लेकिन मौसमी परिस्थितियों के कारण इनमें धूल कण गायब है। नतीजन पश्चिमी हवा के बावजूद प्रदेश की आबोहवा एकदम साफ है और वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 100 के आसपास बना हुआ है। हवा में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन है और सांस लेने के लिए भी अनुकूल है।

हमेशा आंधियों और हवा में धूल कणों के कारण वायु प्रदूषण के मामले में दुनिया के टॉम 20 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में गिने जाने वाले जोधपुर जैसे शहर में भी एक्यूआई सौ के आसपास है। अक्सर जोधपुर में एक्यूआई 250 से 300 के बीच रहने के कारण सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में गिना जाता है।

पिछले 5 दिनों की हवा शुद्ध
दिन ------जोधपुर-- जयपुर -- उदयपुर --कोटा -- अजमेर
28 जून ---- 91 ---- 110 ----56 ----94 ---- 69
29 जून ---- 105 ---- 120 ---- 83 ----115 ---82
30 जून ----100 ---- 128 ----108 ----73 ---- 74
1 जुलाई----129 ----92 ----87 ---- 47 ---- 68
2 जुलाई ----119 ----99 ----100 ----125 ----85
(एक्यूआई 50 अच्छा और 100 संतोषजनक स्तर माना जाता है।)

इनका कहना...
‘इस बार पाक से आ रही हवाएं तुलनात्मक रूप से तेज है। हवाओं के पैटर्न में बदलाव के कारण संभवत: धूल कण नहीं है।’
-आरएस शर्मा, निदेशक, भारतीय मौसम विभाग जयपुर

Gajendrasingh Dahiya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned