हाईवे के निर्माण में लापरवाही की प्रदर्शनी

Ranveer Choudhary | Publish: Aug, 19 2018 12:58:46 AM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

आज प्रशासन का सद्बुद्धि यज्ञ



जोधपुर.
जोधपुर-नागौर हाईवे पर कृषि विश्वविद्याल के पास शनिवार को छात्रों ने सड़क दुर्घटनाओं के कारणों और हाईवे के निर्माण में लापरवाही की प्रदर्शनी रखी। प्रदर्शनी में अब तक हुए सड़क हादसों के कारणों, हाईवे के निर्माण और प्रशासन की अनदेखी की प्रदर्शनी लगाई। क्षेत्रवासियों ने बताया कि विरोध प्रदर्शन को जारी रखते हुए रविवार को प्रशासन के सद्धबुद्धि यज्ञ रखा जाएगा। कृषि विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष चरण सिंह चौधरी ने बताया कि हाईवे के निर्माण के दौरान कई लापरवाही बरती गई। इसके कारण सड़क दुर्घटनाओं में कई लोगों की मौत हो गई। हाईवे पर स्थित शिक्षण संस्थानों के छात्रों व क्षेत्रवासियों को इसे अवगत कराने के लिए शनिवार को प्रदर्शनी रखी गई। इसमें स्पीड ब्रेकर एवं बेरिकेट, बरसाती नाले की निकासी, सर्विस रोड़, डिवाइडर पर सड़क दुर्घटना रोकने के लिए पेड़-पौधों की व्यवस्था, रोड का स्तर एक समान और मोड़ व गोलाईयों को सीधा करने, हाई मास्क लाईट, संकेतक के बारे में बताया गया। इस दौरान जोधपुर पत्थर संघ एसोसियेशन अध्यक्ष निर्मल सिंह कच्छवाहा, संजय कुमार कच्छवाहा, लक्ष्मण सिंह सोलंकी (छोटे नेता), प्रेमशंकर आचार्य, पृथ्वीसिंह कच्छवाहा, राजेन्द्र सोलंकी, शिवराज मीणा, दिनेश कुमार मेघवाल, लक्ष्मण परिहार, नितेश, मनीष, शुभम, प्रीतम भाटी, कृषि विश्वविद्यालय के छात्रसंघ उपाध्यक्ष विकाश माथुर, पवन कुमार सहित कई छात्र उपस्थित थे।

इससे पहले अंधेरे में डूबे हाईवे को टॉर्च से रोशन कर विरोध जताया था

जोधपुर-नागौर हाईवे पर हो रही सड़क दुर्घटनाओं के विरोध कर रहे क्षेत्रवासियों ने अंधेरे में डूबे रहने वाली सड़क को शुक्रवार रात टॉर्च की रोशनी से रोशन कर दिया। हाईवे बनने से पहले इस रोड पर लाइटें लगी हुई थी। लेकिन हाईवे निमार्ण के दौरान रोड लाइटों के पोल हटा दिए थे। हाईवे के निमार्ण के दौरान रोड लाइट, स्पीड ब्रेकर, सर्विस लेन नहीं बनाने से गत ढ़ाई वर्ष में 38 लोगों की सड़क हादसों में मौत हो गई।
क्षेत्रवासियों ने बताया कि हाईवे के निमार्ण से पहले मंडोर ओवरब्रिज से मथानिया तक करीब एक हजार रोड लाइट के पोल थे। लेकिन हाईवे के निमार्ण के दौरान रोड लाइटों के पोल हटा दिए। ठेकेदार ने वापस रोड लाइटें नहीं लगाई। इसके बाद आए दिन सड़क हादसे हो रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned