डीजल के रुपए मांगे तो दागी गोलियां, लूट कर भागते 5 गिरफ्तार

फलोदी. नेशनल हाइवे-125 पर मड़ला कलां स्थित पेट्रोल पंप पर रविवार रात कार में डीजल भरवाने के बाद रुपए मांगने पर फायरिंग करने का मामला सामने आया है।

By: Manish Panwar

Updated: 08 Oct 2018, 10:41 PM IST

फलोदी. नेशनल हाइवे-125 पर मड़ला कलां स्थित पेट्रोल पंप पर रविवार रात कार में डीजल भरवाने के बाद रुपए मांगने पर फायरिंग करने का मामला सामने आया है। वारदात के बाद भागे आरोपियों को देर रात पुलिस थाना देचू की टीम ने चुनाव को लेकर चल रही नाकाबंदी के दौरान गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने इस मामले में कुल 5 जनों को गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण राजन दुष्यंत के अनुसार पुलिस थाना फलोदी के खुमानसिंह पुत्र विक्रमसिंह निवासी देचू ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि एनएच-125 पर मड़ला कलां सरहद के पास उसका गणपति फिलिंग स्टेशन है। रविवार रात करीब 10.30 बजे स्वयं व उसका सैल्समेन तनसिंह पुत्र शैतानसिंह निवासी भैसड़ा पेट्रोल पंप पर बैठे थे। इस दौरान पंप पर 6 7 लड़के कार में सवार होकर आए तथा 500 रुपए का डीजल भरवाया। इस कार में अगरसिंह पुत्र शैतानङ्क्षसह निवासी सगरा, देवीङ्क्षसह पुत्र रूपसिंह निवासी चामू, जोगेन्द्रसिंह पुत्र बाबूसिंह निवासी चांदसमां, वीरेन्द्रसिंह पुत्र भंवरसिंह निवासी चामू, भैरूलाल पुत्र मेगराज पालीवाल निवासी मड़ला, ईश्वरसिंह पुत्र सुमेरसिंह निवासी चामू व प्रकाश पुत्र गिरधारीलाल पालीवाल निवासी मड़ला सवार थे, जिनको पूर्व से जानता हैं। कार डीजल भरवाने के बाद रुपए मांगे तो नहीं दिए और एक दम नीचे उतरे सभी लड़कों ने कहा कि पैसे कैसे मांग लिए। यहां पंप चलाना है तो हमारी गाड़ी में डीजल भरना होगा। इस दौरान अगरसिंह के हाथ में एक टोपीदार बंदूक थी। जिससे जान से मारने की नीयत से फायर कर दिए। फायर के दौराम स्वयं व सैल्समैन नीचे बैठ गए और फायर ऊपर से निकल गया। जिससे दोनों बाल-बाल बच गए। उसके बाद सभी लड़कों ने सैल्समेन की जेब में रखी डीजल सेल की 15 हजार की नकदी लूट ली और फिर से एक फायर करके देचू की तरफ भाग निकले।

नाकाबंदी में दबोचा
वारदात के बाद देचू थानाधिकारी दीपङ्क्षसह ने पुलिस जाब्ते के साथ नाकाबंदी की, तो देर रात 1.30 बजे गुमानपुरा फांटा पर एक सफेद रंग की कार तेज गति से आती देखी। जिस पर पुलिस गाड़ी को रोककर पूछताछ की तो चालक अगरसिंह हड़बड़ा गया। पुलिस ने ड्रैगन लाइट से गाड़ी तलाशी ली तो चालक के पास वाली सीट पर बिना लाइसेंस की सिंगल बैरल टोपीदार बंदूक व सीसे के छर्रे व 4 टोपियां मिली। पुलिस ने अवैध बन्दूक को जब्त कर अगरसिंह, देवीङ्क्षसह, जोगेन्द्रसिंह, वीरेन्द्रसिंह, भैरुलाल पालीवाल को दस्तयाब कर पूछताछ की, तो सभी ने गणपति फिलिंग स्टेशन पर हुई वारदात को अंजाम देना स्वीकर कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने इस कार्रवाई में सहयोग करने वाले देचू थानाधिकारी दीपसिंह, हैड कांस्टेबल देवीङ्क्षसह, कांस्टेबल कृष्णकुमार, खीवाराम व चालक ओमप्रकाश को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। (निसं)

 

Manish Panwar Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned