पूर्व विधायक मलखान को अंतरिम जमानत से इनकार, कस्टडी में करा सकता है  उपचार

-भंवरीदेवी अपहरण और हत्या प्रकरण
-पूर्व विधायक मलखान को है हर्निया की समस्या

 

जोधपुर.

राजस्थान हाईकोर्ट (rajasthan highcourt) ने भंवरीदेवी अपहरण और हत्या प्रकरण (bhanwari devi kidnap and murder case) में आरोपी पूर्व विधायक मलखानसिंह विश्नोई (former MLA Malkhan Singh Vishnoi) की अंतरिम जमानत की अपील खारिज कर दी।

कोर्ट ने उन्हें पुलिस कस्टडी में किसी भी निजी अस्पताल में अपने खर्चे पर सर्जरी करवाने की छूट दी है।

न्यायाधीश पीके लोहरा ने मलखानसिंह की ओर से दायर अपील की सुनवाई के बाद यह आदेश दिया।

अपीलार्थी ने ट्रायल कोर्ट की ओर से गत 6 जुलाई को अंतरिम जमानत अर्जी खारिज किए जाने के आदेश के खिलाफ अपील पेश की थी।

अपीलार्थी के अधिवक्ता हेमंत नाहटा ने कोर्ट को बताया कि एक आरोपी को चिकत्सकीय सुविधा प्राप्त करने के संवैधानिक अधिकार से वंचित नहीं किया जा सकता।

अपीलार्थी को पथरी है। इसके अलावा हर्निया का ऑपरेशन कराने के बाद भी दर्द कम नहीं हुआ है।

उसे अपने खर्च पर सर्जरी करवाने के लिए 12 सप्ताह की अंतरिम जमानत दी जाए। सीबीआइ के विशिष्ट लोक अभियोजक पन्नेसिंह रातड़ी ने इसका विरोध करते हुए कहा कि अपीलार्थी ने पूर्व में भी पुलिस कस्टडी में हर्निया का ऑपरेशन करवाया था।

इसके लिए अंतरिम जमानत देना उचित नहीं होगा।

 

yamuna soni
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned