दोस्ती की मिसाल को मिली टीन शेड की छाया

कोरोना के चलते अपने खास परिजन की मौत पर तो हर परिवार उसकी स्मृति को चीर स्थाई बनाता हैं, लेकिन पीपाड़सिटी में अपने खास युवा दोस्त की कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत से जंग हारने को देखते हुए उसकी स्मृति बनाने के लिए रचनात्मक कार्य कर दिखाया। जो अपने आप में एक प्रेरणादायक उदाहरण बन गया हैं।

By: pawan pareek

Updated: 12 Jun 2021, 07:51 PM IST

पीपाड़सिटी (जोधपुर). कोरोना के चलते अपने खास परिजन की मौत पर तो हर परिवार उसकी स्मृति को चीर स्थाई बनाता हैं, लेकिन पीपाड़सिटी में अपने खास युवा दोस्त की कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मौत से जंग हारने को देखते हुए उसकी चीर स्मृति बनाने के लिए रचनात्मक कार्य कर दिखाया। जो अपने आप में एक प्रेरणादायक उदाहरण बन गया हैं।


शहर में युवा समाजसेवी प्रेम प्रकाश सांखला की गत माह कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अस्पताल में मौत हो गई। उसके शव पर लागू कोरोना प्रोटोकॉल के चलते मित्र अंतिम दर्शन भी नहीं कर सके।

अपने प्रिय मित्र की असामयिक मौत से आहत मित्रों ने प्रेम प्रकाश की स्मृति को चिर स्थाई बनाने के साथ उसे लोगों के दिलों में जिंदा रखने के लिए कुछ ऐतिहासिक करने का बीड़ा उठाया और सभी मित्रों ने अपने आर्थिक सहयोग दिया।

उसी के परिणाम स्वरूप राजकीय जिला अस्पताल परिसर में मरीजों के बैठने के साथ गर्मी से बचाव के लिए टीन शेड का निर्माण करा दिया। इसके साथ शीतल पेयजल के लिए वाटर कूलर भी लगाया हैं।


युवा नेता आदित्य कच्छवाह, अधिवक्ता रामनिवास गहलोत, केमिस्ट अशोक कच्छवाह सहित अन्य मित्रों ने अपने दोस्त की स्मृति को यादगार बनाने के प्रयास को अंतिम रूप देकर दोस्ती की नई मिसाल कायम की। पीएमओ डॉ. सुरेंद्रसिंह परिहार के अनुसार अस्पताल परिसर में टीन शेड बनने से मरीजों को लाभ मिलेगा।

Corona virus
pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned