बिलाड़ा, पीपाड़सिटी में जमकर बरसे बदरा

बिलाड़ा, पीपाड़सिटी में जमकर बरसे बदरा

Pawan Kumar Pareek | Publish: Sep, 09 2018 11:16:22 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

बिलाड़ा. बारिश के इंतजार में मायूस हो चुके किसानों को इन्द्रदेव ने झमाझम मूसलाधार बारिश से प्रसन्न कर दिया। इस बारिश के होने के साथ ही खरीफ की फसलों की बहुत अच्छी होने की उम्मीद बंधी है।

बिलाड़ा. बारिश के इंतजार में मायूस हो चुके किसानों को इन्द्रदेव ने झमाझम मूसलाधार बारिश से प्रसन्न कर दिया। इस बारिश के होने के साथ ही खरीफ की फसलों की बहुत अच्छी होने की उम्मीद बंधी है। शनिवार रात प्रारम्भ हुई बारिश को रविवार प्रात: 40 एमएम मापा गया, वहीं अपरान्ह पश्चात फिर हुई बारिश को 25 एमएम मापा गया। इस प्रकार इन चौबीस घंटों मे समूचे क्षेत्र में ढाई इंच बारिश हुई।

लगातार चले बारिश के दौर एक बार फिर कस्बे की गलियां एव सडक़ों ने बरसाती नालों का रूप धर लिया। बिंजवाडिय़ा मार्ग पर पानी जमा हो जाने से कई घंटों तक आवागमन रूक गया। कस्बे में होने वाली बारिश के दौरान गलियों और सडक़ों पर पानी बहने से परेशानी होती है। कई लोगों एव पार्षदों ने पालिकाध्यक्ष से कस्बे में सिवरेज लाइन लगाने का आग्रह किया।

पीपाड़ सिटी. कस्बे में रविवार दोपहर ३ बजे आसमान में काली घटाएं गिर आई। देखते ही देखते तेज बारिश का दौर शुरू हुआ। इस दौरान जोरदार पानी बरसा। सडक़ों पर तेज वेग से पानी बहता नजर आया। वर्षा का यह क्रम लगभग डेढ़ घण्टे तक जारी रहा। वहीं नाडी तालाबों में पानी आवक बनी रही। क्षेत्र के गांवों में वर्षा होने के समाचार मिले है। वहीं वर्षा का क्रम रूक रूककर जारी है। निप्र.शेरगढ़. कस्बे व आसपास क्षेत्र में शनिवार रात से रूक रूककर बारिश का दौर चलता रहा। सवेरे से बादलों की आवाजाही रही और शाम साढ़े चार बजे से बूंदाबादी शुरू हो गई। करीब आधा घण्टे तक रूक रूककर बारिश चली। बारिश से मौसम खुशनुमा हो गया। किसानों ने भी राहत की सांस ली।

ओसियां क्षेत्र में झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से निजात मिली। बारिश से खेतों में पैदावार करने वाले किसानों के चेहरों पर वापस रौनक छा गई। किसानों ने बताया कि फसल नष्ट हो रही थी कि इन्द्र भगवान ने मेहरबानी कर दी। वहीं बारिश के दौरान बच्चे एवं वृद्धजन आनन्द लेते नजर आए। रविवार को काले बादलों से घिरा वातावरण लोगों के लिए सकून भरा रहा।

लवेरा बावड़ी में दिन भर उमस भरी गर्मी के बाद शाम सवा पांच बजे एकाएक बादल बरसे। कभी तेज तो कभी रूक रूककर बरसे बादलों से पानी का बाळा गलियों में बहने लगा। बच्चों ने बरसात के पानी में नहाने का आनन्द लिया। शनिवार रात में भी बादल बरसे।

खारिया मीठापुर गांव सहित आस पास के क्षेत्रों में दोपहर को हुई बारिश से सडक़ें भीग गई। वही लोगों ने बारिश में नहाने का आनंद लिया। सुबह से ही रिमझिम बारिश का दौर शुरू हुआ, जो दिनभर जारी रहा। दोपहर मे तेज बारिश होने के कारण ठंडी हवा चलने लगी। लोगों को उमस व गर्मी से राहत मिली।

बोरुन्दा कस्बे व ग्राम्यांचल में दो दिन से रिमझिम बारिश का दौर जारी है। जिसके चलते खरीफ की अगेती फसलों में खराबें की भी आंशका पैदा होने लगी है। बारिश के चलते शनिवार रात्रि को पूरा बोरुन्दा कस्बे में विद्युत नहीं रही। बोरुन्दा, घोड़ावट, खवासपुरा, गढ़सूरिया, मादलिया, सोवनिया, हरियाढ़ाणा, पटेलनगर, रणसीगांव, भाकरों की ढ़ाणी व महादेव नगर सहित ढ़ाणियों में शनिवार दोपहर से शुरू हुई बारिश रविवार शाम सात बजे तक जारी रही। वहीं रिमझिम बारिश से कई घरों की छतें भी टपकने लगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned