शिक्षा विभाग के प्रबंध पोर्टल पर सामने आ रही अनियमितताएं

कार्य पुस्तिकाओं की ढंग से नहीं की गई एंट्री

By: Jay Kumar

Published: 22 Feb 2021, 07:06 PM IST

जोधपुर. शिक्षा विभाग के कार्यालय प्रबंध पोर्टल पर अनियमितताएं कर रहे हैं। इस कारण पोर्टल पर की जाने वाली एंट्री में लाखों का फेर आ रहा है। जोधपुर समेत कई जिलों को भेजी गई कार्य पुस्तिकाओं की एंट्री भी ढंग से नहीं की गई है। इस प्रबंध पोर्टल पर कक्षा १ से ५ के बच्चों को भेजी गई विभिन्न विषय की कार्य पुस्तिकाएं की एंट्री करनी होती है। उनकी मुख्यालय व जिला स्तर पर की गई एंट्री में लाखों रुपए का अंतर सामने आ रहा है। राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद् अतिरिक्त राज्य परियोजना निदेशक एमआर बगडि़या ने कहा कि वार्षिक कार्ययोजना २०२०-२१ में अनुमोदित गतिविधियों के अनुसार जिला स्तर को भौतिक और वित्तिय लक्ष्य निर्धारित किए गए थे। जिलों को प्राप्त राशि व सामान्य एंट्री के रूप में प्रेषित राशि की प्रबंध पोर्टल पर जिला स्तर से प्रविष्टिया की गई, समीक्षा में पाया गया जिला स्तर से की गई प्रविष्टियों में अनियमितताएं प्रदर्शित हो रही है।

ये गड़बडि़यां आ रही सामने
बांसवाडा में कक्षा ३ से ५ में विभिन्न विषय की कार्य पुस्तिका में एंट्री का योग ८९.७२ लाख है, जबकि यहां एंट्री ८२.२९ लाख की गई, यहां ७.४३ लाख का अंतर आ रहा है। जयपुर में ९४.५२ लाख रुपए की एंट्री की गई, जबकि सही जोड़ ९०.६६ लाख है। इसी प्रकार जोधपुर में टीचर सपोर्ट मेटेरियल में १.७२९५० की राशि जारी की गई, प्रबंध पोर्टल पर एंट्री १.६७९५ की बताई गई। यहां अंतर ०.०५००० से आकर कम आ रहा है।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned