दो दिन में बनी सेनेटाइजर की 20 हजार बोतलें, सरकारी दफ्तरों में फ्री में बंटेंगी

jodhpur news

- मंडोर स्थित गंगानगर शुगर मिल ने 180 मिली की बोतलों का किया उत्पादन, पूरे संभाग में वितरित की जाएगी
- 30 मार्च के बाद आम जनता को उपलब्ध हो सकेगा

 

जोधपुर. सरकार के निर्देश पर मंडोर स्थित राजस्थान स्टेट गंगानगर शुगर मिल ने दो दिन में हैंड सेनेटाइजर की 20 हजार बोतलों का उत्पादन कर दिया है। बोतल 180 मिलीलीटर की है। फिलहाल इसे कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लगे सरकारी महकमों में पूरे संभाग में बांटा जाएगा। गुरुवार को नगर निगम, सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार और कृषि कार्यालय ने सीधे मिल जाकर इनकी प्राप्ति की। यह नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है।

सेनेटाइजर की बाजार में कालाबाजारी को देखते हुए राज्य सरकार ने अपनी शुगर मिल को सेनेटाइजर बनाने के निर्देश दिए थे। जोधपुर के अलावा गंगानगर शुगर मिल की उदयपुर, जयपुर, कोटा और हनुमानगढ़ ब्रांच में भी उत्पादन शुरू हो गया है। सेनेटाइजर के लिए एक्सट्रा नेचुरल एल्कोहल में हाइड्रोजन पराक्साइड, ग्लिसरिन, नींबू का एसेंस मिलाया गया है। यह हरे रंग का है। शुगर मिल से राजस्थान स्टेट बेवरेज कॉरपोरेशन लि. के माध्यम से वितरित किया जाएगा। जरुरत के अनुसार इसका उत्पादन प्रतिदिन जारी रहेगा।

आम जनता को 30 मार्च के बाद मिलेगा किफायती दर में

सरकार ने फिलहाल कोरोना संक्रमण में ड्यूटी दे रहे सरकारी कार्मिकों को सुरक्षित करने के लिए यह कदम उठाया है, लेकिन 30 मार्च के बाद यह मेडिकल स्टोर, स्वयंसेवी संस्थाओं और अन्य स्थानों पर आम लोगों के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। इसकी कीमत वर्तमान में बाजार में मिलने वाले सेनेटाइजर से आधी ही होगी।

आज दो गाड़ी रवाना कर दी
हमने दो दिन में सेनेटाइजर के 20 हजार पव्वे बना दिए हैं। इसकी एक गाड़ी जोधपुर और एक गाड़ी पाली के लिए रवाना की है।

दिनेश गहलोत, प्रभारी आबकारी अधिकारी, गंगानगर शुगर मिल मंडोर

Gajendrasingh Dahiya Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned