07 फेरे तो पूरे, अनुदान का फेरा 07 माह बाद भी अधूरा

- सामूहिक विवाह में फेरे लने वाले 285 जोड़ों को अनुदान का इन्तजार
- अधिकारी बता रहे बजट का अभाव

By: Om Prakash Tailor

Published: 13 Jul 2020, 12:00 AM IST

ओम टेलर. जोधपुर. शादी हो गई, दूल्हन ससुराल भी चली गई। कई दूल्हनें तो गोद भराई की रस्म पूरी कर मुर्हूत पर वापस पीहर भी आ गई लेकिन सरकार की ओर से मिलने वाली अनुदान राशि अभी तक उनके एकाउंट में जमा नहीं हुई। ऐसे में कई विवाहित जोड़ें एवं संस्थान के पदाधिकारी अनुदान राशि के लिए महिला अधिकारिता विभाग के चक्कर काट परेशान हो रहे है। जिन्हें हर बार एक ही जवाब मिलता है कि मुख्यालय से बजट आते ही अनुदान राशि का भुगतान कर दिया जाएगा।

बाल विवाह, दहेज प्रथा जैसी कुरीतियों की रोकथाम एवं बढ़ती हुई महंगाई में कमजोर आय वर्ग के लोगों को आर्थिक सहयोग देने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने सामूहिक विवाह योजना शुरू की थी। इसके तहत सामूहिक विवाह समारोह में फेरे लेने वाले जोड़े को अनुदान के रूप में 15 हजार व आयोजक समिति को तीन हजार रुपए सरकार की ओर से दिए जाते हैं। लेकिन धीमी सरकारी प्रक्रिया व बजट के अभाव के चलते भी 285 नवविवाहित जोड़ों का अनुदान पिछले सात माह से अधिक समय से अटका हुआ है। ऐसे में आयोजन समिति के पदाधिकारी व कई विवाहित जोड़ों को विभाग के चक्कर काटने पड़ रहे है।

चाहिए 46 लाख का बजट
वर्तमान में राजस्थान सामूहिक विवाह एवं अनुदान योजना 2018 के तहत कोई सामाजिक संस्था एक ही स्थान पर कम से कम 10 जोड़े तथा अधिकतम 500 जोड़ों का विवाह करवाने पर योजना के तहत अनुदान से लाभान्वित किया जाता है। विवाह प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने पर वधु के एकाउंट में 15 हजार तथा संस्थान के एकाउंट में तीन हजार रुपए की अनुदान राशि जमा करवाई जाती है। योजना के तहत 285 जोड़ों व संस्था को अनुदान राशि का भुगतान करने के लिए 46.72 लाख का बजट चाहिए लेकिन विभाग के खाते में महज 5.11 लाख का बजट है। ऐसे में मुख्यालय से बजट की डिमांड की है।

इन्हें स्वीकृति के कई माह बाद भी अनुदान का इन्तजार
संगठन --आवेदन की तिथि ---जोड़े
1-कौमी मेड़ती सिलावटान --25 नवम्बर 2019 -- 32
2- सैन जागृति संस्थान जोधपुर --10 दिसम्बर 2019 --29
3-श्रीनारायण सेवा समिति मंडोर --30 दिसम्बर 2019 --16
4- कौमी अब्बासियान (भिश्ती) --16 दिसम्बर 2019 --24
शेखावटी गोरवाटी जुमले संस्था
5- नवज्योति विकास -- 11 मार्च 2020 --53
संस्थान पाली
6- सुदर्शन सेवा संस्थान --19 फरवरी 2020 -- 102
7- मुस्लिम जमात नागौरी --28 फरवरी 2020 --17
तेलियान समिति जोधपुर
8- मारवाड़ शेख सैय्यद मुगल --20 मार्च 2020 --12
पठान विकास समिति जोधपुर

बजट आते ही कर देंगे भुगतान
बजट के अभाव में अनुदान राशि का भुगतान करने में देरी हो रही है। मुख्यालय से बजट की डिमांड की है। बजट आते ही अनुदान राशि का भुगतान करवा दिया जाएगा।
- फरसाराम विश्नोई, सहायक निदेशक महिला अधिकारिता विभाग, जोधपुर

Om Prakash Tailor
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned