मंदिर में फेरी देकर मानसिक बीमार कुएं में कूदा, मौत

- पुलिस व नागरिक सुरक्षा दस्ते ने डेढ़ घंटे की मशक्कत से ६० फुट गहराई में पानी से शव निकाला

By: Vikas Choudhary

Published: 24 Aug 2020, 06:00 AM IST

जोधपुर.
घर से निकले मानसिक बीमार एक युवक को परिजन ने पकड़कर भाकरासनी गांव में भोमियाजी के मंदिर में फेरी दिलाई, लेकिन कुछ ही देर बाद रविवार अपराह्न वह युवक खेत में खुले कुएं में जाकर कूद गया। नागरिक सुरक्षा दस्ते ने डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद शव बाहर निकाल एम्स में रखवाया।
उप निरीक्षक विश्राम मीणा के अनुसार झंवर थानान्तर्गत लूणावास चारणान गांव निवासी भोमाराम (३५) पुत्र पाताराम भील का कई दिनों से मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। वह सुबह अपने छोटे पुत्र को मोटरसाइकिल पर बिठाकर घर से निकल गया। वह सर-सरेचां गांव की पहाड़ी पर चला गया। चिंतित परिजन उसके पीछे-पीछे गए तो वह पैदल ही भागने लगा। घरवालों ने उसे पकड़ लिया और भाकरासनी गांव स्थित भोमियाजी के मंदिर लेकर आए, जहां उसकी फेरी दिलाई। सभी घरवाले कुछ दूरी पर एक झोंपड़े के पास पानी पीने के लिए बैठ गए। इतने में भोमाराम झाडि़यों की तरफ चला गया। लघुशंका करने जाने के संदेह में घर वाले पीछे नहीं गए। काफी देर तक वह लौटकर नहीं आया तो घरवालों ने तलाश शुरू की। कुछ दूरी पर खुले कुएं के किनारे उसके जूते मिले। घरवालों को भोमाराम के उसमें गिरने की आशंका हुई।

उन्होंने पुलिस को सूचना दी। एसआई विश्राम मीणा मौके पर पहुंचे। करीब साठ फुट गहरे कुएं में २०-२५ फुट तक पानी भरा था। राहत कार्य के लिए नागरिक सुरक्षा दस्ते को मौके पर बुलाकर कुएं में तलाश कराई गई।
रस्से से बांधकर लोहे का एक शिकंजा कुएं में डाला गया। शिकंजा भोमाराम के कपड़ों में जाकर अटक गया। दस्ते का एक कार्यकर्ता कुएं में उतरा और शिकंजे से बांधकर भोमाराम को बाहर लाया। पुलिस व परिजन उसे तुरंत एम्स ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। शव मोर्चरी में रखवाया गया है।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned