जोधपुर कलक्टर का अंदाज फिर बना चर्चा का विषय

जोधपुर कलक्टर का अंदाज फिर बना चर्चा का विषय

Manish Panwar | Publish: Jan, 17 2019 12:18:31 AM (IST) Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

पीपाड़सिटी. पिछले दिनों अपने फैसले से सुर्खियों में आए जोधपुर कलक्टर इस बार फिर चर्चा में है। इस बार वे एक गांव के अटल सेवा केन्द्र में न केवल जनसुनवाई की, बल्कि रात्रि विश्राम भी किया।

पीपाड़सिटी. पिछले दिनों अपने फैसले से सुर्खियों में आए जोधपुर कलक्टर इस बार फिर चर्चा में है। इस बार वे एक गांव के अटल सेवा केन्द्र में न केवल जनसुनवाई की, बल्कि रात्रि विश्राम भी किया। अब तक के जिला कलक्टर जहां राज्य सरकार के रात्रि चौपाल कार्यक्रम के बाद अधिकतर गेस्ट हाऊस में रात्रि विश्राम करते हैं वहीं नए कलक्टर ने मलार गांव के अटल सेवा केंद्र में रात्रि प्रवास कर नया इतिहास रच दिया। सीमित सुविधाओं के बीच उपखण्ड क्षेत्र में रात्रि चौपाल के बाद सोने के कलक्टर का पड़ाव डालने की यह पहली घटना हैं। जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने मंगलवार को पंचायत समिति के मलार गांव मे रात्रि चौपाल कार्यक्रम में ग्रामीणों की समस्याओं सनी और विभागों की प्रगति के साथ सरकारी जनकल्याण योजनाओं और कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए विशेष दिशा निर्देश भी दिए। राजपुरोहित के समक्ष मलार गांव के ग्रामीणों ने पेयजल समस्या के साथ गांव और खेतों के रास्तों पर अतिक्रमण से आने वाली परेशानियों को सुना। उन्होंने पेंशन के साथ विद्युत समस्या की जानकारी ली। जिला कलक्टर ने इस दौरान रात्रि चौपाल में मिली शिकायतों के समाधान को लेकर अधिकारियों को निर्धारित समय में पूरा कर रिपोर्ट देने के निर्देश भी दिए। इसके साथ नियमों में आने वाले कामों में अनावश्यक देरी को लेकर अधिकारियों को स्पष्ट चेतावनी भी दी। रात 8 बजे पहुंचे जिला कलक्टर ने रात्रि दस बजे तक ग्रामीणों से समस्या सुनी। रात्रि प्रवास अटल सेवा केंद्र में किया। वे बुधवार सुबह सात बजे जोधपुर रवाना हुए। ये रहे उपस्थितरात्रि चौपाल में जिला रसद अधिकारी ओंकार सिंह कविया, उपजिला कलक्टर कंचन राठौड़, तहसीलदार धन्नाराम गोदारा, विकास अधिकारी डॉ. महेंद्र सिंह मेहता, विद्युत निगम के अधिशासी अभियंता एस एल परिहार, मंडी सचिव आरती, थानाधिकारी चम्पाराम, सहायक अभिंयता भगवानराम खोजा, सरपंच जीताराम मेघवाल के साथ अन्य विभागों के ब्लॉक स्तर के अधिकारियों ने भाग लिया। इस दौरान ग्रामीणों ने कलक्टर के समक्ष आंगनबाड़ी,पशु चिकित्सालय खोलने और पीपाड़सिटी कृषि मंडी में मूंग तुलवाई केंद्र पुन: शुरू करने की भी मांग रखी।

योजनाओं की जानकारी दी
रात्रि चौपाल में मनरेगा, खाद्य सुरक्षा, राजलक्ष्मी, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, दीनदयाल ग्रामीण विद्युत योजना के साथ अन्य विभागों के अधिकारियों ने विस्तृत जानकारी के साथ लाभ लेने की प्रक्रिया और आवश्यक संलग्न दस्तावेज से अवगत कराया।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned