STRIKE--- बैंक व केन्द्रीय कर्मियों की हड़ताल: धरना-प्रदर्शन नहीं कर पाए कर्मचारी

बैंक व केन्द्रीय कर्मियों की हड़ताल: धरना-प्रदर्शन नहीं कर पाए कर्मचारी

- कोविड 19 व धारा 144 के चलते नहीं हुआ कोई धरना-प्रदर्शन

By: Amit Dave

Published: 26 Nov 2020, 09:43 PM IST

जोधपुर।

नेशनल कन्वेंशन ऑफ वर्कर्स ऑर्गनाइजेशन, ऑल इंडिया ट्रेड यूनियनों व ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉइज एसोसिएशन की ओर से गुरुवार को राष्ट्रव्यापी हड़ताल की गई, लेकिन धरना-प्रदर्शन कोविड-19 की भेंट चढ़ गए। कोविड व धारा 144 के चलते कोई धरना-प्रदर्शन नहीं हुआ लेकिन हड़ताली कर्मचारियों व मजदूरों ने कार्य नहीं कर हड़ताल को समर्थन दिया व सफल बनाया।
राजस्थान प्रदेश बैंक एम्प्लॉयज यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष एलएन जालानी ने बताया कि मजदूर, कर्मचारी, आमजन, बैंक कर्मचारी विरोधी तथा कॉर्पोरेट जगत के वित्तीय क्षेत्र पोषक सुधारों के विरोध में हड़ताल की गई। सार्वजनिक क्षेत्र के सशक्तिकरण के लिए, लोन डिफ ॉल्टर्स के खिलाफ कड़े कदम उठाने, नियमित बैंकिंग सेवाओं की आउटसोर्सिंग रोकने, बैंककर्मियों की नई पेंशन योजना बंद कर पुरानी पेंशन योजना लागू करने सहित विभिन्न मांगों पर हड़ताल की गई।

कॉन्फेडरेशन ऑफ सेंट्रल गवर्नमेंट एम्प्लॉइज एंड वर्कर्स के तत्वावधान में भारतीय वनस्पति सर्वेक्षण कर्मचारी संघ ने भी भाग लिया।
----

रेलकर्मियों ने किया प्रदर्शन
केन्द्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे एम्पलॉइज यूनियन की ओर से रेलकर्मियों ने हड़ताल के समर्थन में सरकार के खिलाफ विभिन्न मांगों को लेकर यूनियन के मण्डल कार्यालय में विरोध प्रदर्शन किया। मण्डल सचिव मनोजकुमार परिहार ने बताया कि रेलवे में निजीकरण, पुरानी पेंशन स्कीम को लागू करने, रेलवे में रिक्त पदों को भरने सहित विभिन्न मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। जिसमें अनेक रेलकर्मियों ने भाग लिया।

Amit Dave Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned