भविष्य की मुश्किलों का मुकाबला करने में जुटे राजनेता-भामाशाह

- केन्द्रीय मंत्री शेखावत की पहल पर 120 बेड के आइसोलेशन सेंटर का काम शुरू

By: Avinash Kewaliya

Published: 02 May 2021, 10:27 PM IST

जोधपुर। कोरोना संक्रमितों और मौतों का बढ़ता हुआ ग्राफ हर किसी के जहन में खौफ पैदा कर रहा है। लेकिन इसका मुकाबला करने वालों की भी कमी नहीं है। राजस्थान पत्रिका के महामारी से महामुकाबला अभियान से प्रेरित होकर कई भामाशाह आगे आ रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में जहां आइसोलेशन सेंटर खोलने की पहल हुई है वहीं शहरी क्षेत्र में केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने 120 बेड के आइसोलेशन सेंटर के लिए पहल की है।

राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान में खुलेगा 120 बैड का सेंटर

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्रसिंह शेखावत की पहल पर राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान में 120 बेड का आइसोलेशन सेंटर शुरू किया जा रहा है। रविवार सुबह शेखावत ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रान्त प्रचारक योगेन्द्र, महापौर वनिता सेठ, एम्स और डीआरडीओ की टीम के साथ सेंटर का अवलोकन किया। रविवार को शेखावत ने कहा कि जोधपुर में भी परिस्थितियां चिंताजनक हैं। हम सबने मिलकर प्रयास किया है कि एम्स, जो लगभग 400 मरीजों को सेवाएं दे रहा है। उसके एडिशनल विंडो के रूप में हम एक और फेसिलिटी बनाने का प्रयास कर रहे हैं। माडरेट लेवल पर चिकित्सा की आवश्यकता है, उनको रखा जा सकेगा। ताकि मुख्य एम्स पर दबाव कम हो। इस मौके पर पूर्व महापौर घनश्याम ओझा, भाजपा देहात अध्यक्ष मनोहर पालीवाल, अखिल भारतीय माहेश्वरी समाज के राष्ट्रीय महासचिव संदीप काबरा, जिला उपाध्यक्ष नरेश सुराणा, जिला महामंत्री देवेंद्र सालेचा व अन्य मौजूद थे। कोरोना संक्रमण चेन तोडऩे के लिए समाज के सहयोग की सबसे बड़ी आवश्यकता है। क्योंकि हम संसाधनों को बढ़ाते जाएंगे और बीमारी भी यदि उसी गति से बढ़ती रही तो निश्चित रूप से चुनौती बड़ी होगी।

COVID-19 COVID-19 virus
Show More
Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned