RAILWAY---कोरोना से जंग के लिए तैयार रेलवे

- अधिकारियों को दवाइयों सहित सुरक्षात्मक आयटम्स का स्टॉक एडवांस में रखने के निर्देश

- उत्तर पश्चिम रेलवे के सभी मंडलो को अलर्ट रहने के आदेश

By: Amit Dave

Updated: 03 May 2021, 04:39 PM IST

जोधपुर।

वैश्विक कोरोना महामारी की दूसरी लहर में प्रतिदिन हजारों की संख्या में आ रहे कोरोना पॉजिटिव मरीजों को लेकर रेलवे गंभीर है। रेलवे ने कोरोना की वर्तमान भयावह स्थिति को देखते हुए सभी मण्ड़लों को कोरोना महामारी का सामना करने के निर्देश दिए है। इसके लिए सभी मण्डलों को आगामी तीन माह तक की दवाइयों का स्टॉक एडवांस में रखने के लिए कहा गया है। हाल ही में, उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख मुख्य चिकित्सा निदेशक डॉ पीके सामन्तराय ने जोधपुर सहित जयपुर, अजमेर व बीकानेर के मण्डल प्रबंधकों को यह व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।

--

सुनिश्चित हो दवाओं की व्यवस्था

रेलवे की ओर से कोरोना ईलाज में काम आने वाली आवश्यक दवाइयों सहित कोरोना से सुरक्षा के लिए काम आने वाले ऑक्सीजन सिलेण्डर्स, पीपीई किट, सर्जिकल फेस मास्क, एन-95 मास्क, सर्जिकल ग्लव्स, सेनिटाइजर्स आदि का आगामी तीन तक का स्टॉक की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है, ताकि जरुरत पडऩे पर दवाओं व सुरक्षात्मक आयटम्स की कमी न हो।

--

बाधा नहीं बनना चाहिए फण्ड

मण्डल रेल प्रबंधकों को कहा गया कि वे अपर मण्डल रेल प्रबंधकों, जो कोविड कॉर्डिनेटर है, से रेलवे के मुख्य चिकित्साधिकारियों से कोविड मरीजों के लिए काम आने वाला दवाओं व सुरक्षात्मक आयटम्स का आगामी तीन माह तक का स्टॉक जांच ले। किसी आयटम में कमी होने पर उसकी आपूर्ति में फण्ड की कमी नहीं आनी चाहिए। वहीं, किसी आयटम की खरीद मण्डल रेल प्रबंधक के क्षेत्राधिकार में नहीं होने की स्थिति में मुख्यालय को अवगत करा सकते है।वहीं कोविड में मेडिकल ऑक्सीजन की हो रही कमी को देखते हुए प्रत्येक मण्डल को इमरजेंसी की स्थिति में ऑक्सीजन सिलेण्डर्स की व्यवस्था के लिए कहा गया।

Amit Dave Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned