अध्यापकों के खाली पदों को लेकर भड़के स्कूली छात्र, स्कूल के लगाए ताले

अध्यापकों के खाली पदों को लेकर भड़के स्कूली छात्र, स्कूल के लगाए ताले

Manish Panwar | Publish: Sep, 27 2018 01:28:41 AM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

कजनाऊ खुर्द में शिक्षकों व कर्मचारियों की कमी रिक्त पद नहीं भरने से गुस्साए विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों ने मिलकर बुधवार को तालाबंदी करते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया।

भोपालगढ़. क्षेत्र के राजकीय माध्यमिक विद्यालय कजनाऊ खुर्द में शिक्षकों व कर्मचारियों की कमी एवं लम्बे समय से किबज रही मांग के बावजूद रिक्त पद नहीं भरने से गुस्साए विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों ने मिलकर बुधवार को तालाबंदी करते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही विद्यालय के बाहर टेंट लगाकर अनिश्चितकालीन धरना भी शुरू कर दिया। अधिकारियों की समझाईश पर ग्रामीण मानने को तैयार नहीं हुए और शुक्रवार से भूख हड़ताल शुरु करने की भी चेतावनी दी है।स्थानीय युवा सामाजिक कार्यकर्ता विजय चौधरी व अर्जुनराम खदाव ने बताया कि क्षेत्र के कजनाऊ खुर्द स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के साथ ही हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, संस्कृत के वरिष्ठ अध्यापकों के साथ ही विद्यालय के वित्त बाबू एवं दो चपरासियों के पद लम्बे समय से रिक्त चल रहे हैं। साथ ही विद्यालय के क्रमोन्नत हुए आधा सत्र बीत जाने के बावजूद भी अभी तक विद्यालय में प्रधानाध्यपक एवं कई विषयों के शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हुई है। इस संबन्ध में कई बार विभागीय अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों से भी मांग की गई, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। इस बात से आक्रोशित विद्यालय के विद्यार्थियों व गांव के दर्जनों ग्रामवासियों ने मिलकर बुधवार को सुबह स्कूल के गेट पर ताला जड़ दिया। साथ ही रिक्त पद भरने की मांग को लेकर विद्यार्थियों द्वारा जमकर नारेबाजी एवं विरोध प्रदर्शन किया। यहां प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने विद्यार्थियों के साथ मिलकर स्कूल के सामने टेंट लगाकर अनिश्चितकालीन धरना भी शुरू कर दिया। प्रदर्शन विद्यार्थियों का कहना था कि जब तक अधिकारियों द्वारा लिखित रूप मे आश्वासन नही मिलेगा तब तक विद्यालय के मुख्य द्वार के सामने उनका धरना चलेगा। इस दौरान धरना स्थल पर वार्ड पंच जेठूदास, पूर्व उप सरपंच अखेसिंह, वार्डपंच सीताराम मेघवाल, पूर्व उपसरपंच जेठाराम सोऊ, सामाजिक कार्यकर्ता अर्जुनराम खदाव, पट्टीदार झूमरराम देदड़, कुंभाराम देदड़, केसाराम सोऊ, हुकमाराम लोल, अर्जुनराम लोल समेत करीब सौ-डेढ़ सौ ग्रामीण एवं विद्यालय के विद्यार्थी मौजूद थे। (निसं)

अधिकारियों ने की समझाइश
इस बात की जानकारी मिलने पर लवेरा कलां के पंचायत प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों से समझाइश शुरु की। साथ ही उनकी मांग को विभाग के उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का भी आश्वासन दिया, लेकिन ग्रामीणों ने उनकी एक नहीं सुनी और शिक्षकों की नियुक्ति पर ही धरना समाप्त करने की घोषणा कर दी। जिसके बाद दोपहर में ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी बावड़ी पूनम सोनी भी मौके पर पहुंची और ग्रामीणों से मिलकर उनकी बात सुनी। साथ ही वहीं से दूरभाष पर जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक से बात करने के बाद ग्रामीणों को आश्वस्त करते हुए बताया कि गुरुवार तक तीन-चार अस्थाई विषय अध्यापकों की नियुक्ति कर दी जाएगी। लेकिन इसके बावजूद भी ग्रामीण नहीं माने और उन्होंने कहा कि गुरुवार को जब अस्थाई तौर पर लगाए जाने वाले शिक्षक विभागीय आदेश लेकर विद्यालय पहुंचेंगे, तभी विद्यालय का ताला खोला जाएगा और वे अपना धरना समाप्त करेंगे। साथ ही ग्रामीणों ने यह चेतावनी भी दी कि यदि गुरुवार को अस्थाई रूप से शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गई तो शुक्रवार से ग्रामीण भूख हड़ताल भी शुरू करेंगे।

१३ की जगह मात्र ३ शिक्षक
कार्यकर्ता अर्जुनराम खदाव ने बताया कि कजनाऊ खुर्द के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय को इसी शिक्षा सत्र से माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत किया गया था और विद्यालय में प्रधानाध्यापक समेत कुल १३ पद स्वीकृत किए गए थे। लेकिन विद्यालय क्रमोन्नति के बाद यहां पूर्व में लगे प्राथमिक स्तर के कई शिक्षकों का भी अन्यत्र स्थानांतरण कर दिया गया और एक भी नए शिक्षक की नियुक्ति नहीं हो पाई। ऐसे में वर्तमान में यहां १३ की जगह मात्र ३ शिक्षक ही कार्यरत हैं। इनमें से एक शिक्षक को प्रधानाध्यापक का कार्यभार संभालना पड़ता है और पूरा समय विभागीय डाक तैयार करने एवं एक शिक्षक को सुबह दूध वितरण से पोषाहार वितरण में ही लगा रहना पड़ता है। जिसके चलते विद्यालय के करीब डेढ़ सौ छात्र-छात्राओं की पढ़ाई की व्यवस्थित तरीके से शुरु नहीं हो पाई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned